रबी फसलों का घटा रकबा

रबी फसलों के रकबे में पिछले साल के मुकाबले कमी दर्ज की गई है। कृषि मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार देशभर में कुल 617.79 लाख हैक्टेयर भूमि पर रबी की बुवाई की गई जो पिछले वर्ष 2016-17 की समान अवधि के रकबे 620.99 लाख हैक्टेयर से 0.52 प्रतिशत कम है।

रबी फसलों में प्रमुख गेहूँ की बुवाई इस वर्ष (2017-18) में 298.67 लाख हैक्टेयर दर्ज की गई है जो पिछले साल की समान अवधि के बुवाई आंकड़े 311.17 लाख हैक्टेयर से 4.02 प्रतिशत कम है। वहीं रबी सीजन में इस साल धान का रकबा पिछले साल के मुकाबले 39.59 प्रतिशत की बढ़त के साथ 22.32 लाख हैक्टेयर रहा।

दलहन बुवाई में बढ़ोत्तरी

रबी दलहन फसलों की बुवाई में इस साल पिछले साल की अपेक्षा बढ़ोत्तरी हुई है। दलहनों का कुल रकबा इस साल 163.11 लाख हैक्टेयर हो गया है जो पिछले साल के 155.76 लाख हैक्टेयर से 4.72 प्रतिशत अधिक है। वहीं चने का रकबा 106.23 लाख हैक्टेयर दर्ज किया गया है जिसमें 7.88 प्रतिशत की बढ़त आंकी गई है। मोटे अनाज का कुल रकबा 54.58 लाख हैक्टेयर है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इसका रकबा 55.99 लाख हैक्टेयर था।

किसानों का रूझान कम

वहीं अगर हम तिलहन फसलों की बात करें तो इसमें किसानों का रूझान काफी कम आंका गया है। कुल तिलहन फसलों का रकबा अब तक 79.11 लाख हैक्टेयर दर्ज किया गया है जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह 82.08 लाख हैक्टेयर था। तिलहन के रकबे में 3.61 प्रतिशत की कमी आई है। प्रमुख रबी तिलहन फसल सरसों का रकबा पिछले साल से 5 प्रतिशत कम है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक देशभर के किसानों ने इस साल 66.60 लाख हैक्टेयर में सरसों की बुवाई की है।

Comments