MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

Poultry Farming Training: 24 से 26 फरवरी तक चलेगा मुर्गी पालन प्रशिक्षण कार्यक्रम, ऐसे करें आवेदन

पशुपालन एक सफल व्यवसाय है, जिससे किसानों को लम्बे समय तक अच्छा मुनाफा प्राप्त होता है. मुर्गी पालन को व्यवसायिक तरह से बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय पक्षी अनुसंधान संस्थान बरेली की ओर से महू में मुर्गी पालन के लिए व्यवसायिक प्रशिक्षण शुरू किया जा रहा है, जो कि 24 फरवरी2022 से 26 फरवरी 2022 तक रहेगा.

स्वाति राव
Poultry Farming Training will Increase the Income of Farmers
Poultry Farming Training will Increase the Income of Farmers

भारतीय बाजार में इन दिनों कृषि-व्यवसाय (Agri Business) बहुत उभरकर सामने आ रहा है. यह ऐसा व्यवसाय है, जिसकी बाज़ार में हमेशा मांग रहती है. पशुपालन भी कृषि व्यवसाय का महत्वपूर्ण हिस्सा है, जिसमें मुर्गी पालन भारतीय बाजार परिदृश्य में सबसे तेजी से बढ़ने वाले और सबसे अधिक लाभदायक कृषि व्यवसाय में से एक है.

इसके अलावा, मुर्गी पालन व्यवसाय उन लोगों के लिए सबसे अच्छा विकल्प है, जो भारत में एक सफल कृषि-व्यवसाय कैरियर बनाना चाहते हैं.

मुर्गी पालन को बढ़ावा देने के लिए राज्य की कई संस्थाएं (Institutions) प्रशिक्षण देने का कार्य संभाल रही हैं, ताकि पशुपालकों को मुर्गी पालन के लिए अधिक और नई – नई तकनीकों (More And Newer Technologies For Poultry Farming) की जानकारी हो. ऐसे में केंद्रीय पक्षी अनुसंधान संस्थान बरेली (Central Bird Research Institute Bareilly) की ओर से महू में मुर्गी पालन के लिए व्यवसायिक प्रशिक्षण शुरू किया जा रहा है.

मुर्गी पालन प्रशिक्षण की तिथि (Poultry Farming Training Date)

यह प्रशिक्षण तीन तक 24 फरवरी 2022 से 26 फरवरी 2022 तक चलाया जाएगा. इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आपको प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही सूचित करना होगा. इसमें मुर्गी पालन का प्रशिक्षण करने वाले लोग, संस्थान में फोन, पत्र या फिर ईमेल के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं.

मुर्गी पालन प्रशिक्षण में दी जाने वाली सुविधाएं (Facilities provided in Poultry Farming Training)

इस दौरान सभी किसानों और पशुपालकों को संस्था की तरफ से तीन दिन के कार्यक्रम में आवास, चाय, नाश्ता, दोपहर और रात्रि का भोजन और प्रशिक्षण पुस्तक आदि की सुविधाएं दी जाएँगी.

इसे पढ़ें -Beekeeping Training: इस राज्य में 28 फरवरी से शुरू होगा मधुमक्खी पालन प्रशिक्षण, होगा जबरदस्त फायदा

दो तरह के मुर्गी पालन प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन (Organizing Two Types of Poultry Training Program)

मुर्गी पालन के लिए संस्था की तरफ से दो तरह का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा. पहला प्रशिक्षण जो सामान्य प्रशिक्षण कार्यक्रम होगा. जिस प्रशिक्षण में किसानों से कोई शुल्क नही वसूला जायेगा. बस रहने और ख्नाने पीने के लिए खर्चा लिया जायेगा. वहीं दूसरा प्रशिक्षण कार्यक्रम विशेष कार्यक्रम होता है, जैसे कि हैचरी, लेयर पालन या फिर ब्रायलर पालन पर, इस तरह के कई कार्यक्रम होते हैं, ये 14 दिनों की ट्रेनिंग होती है, जिसकी फीस भी होती है.

मुर्गी पालन प्रशिक्षण का शुल्क (Poultry Farming Training Fee)

इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण का शुल्क तीन हजार रुपए रखा गया है, क्योंकि इसमें प्रशिक्षणार्थी  के लिए कई तरह की व्यवस्था का शुल्क भी जोड़ा गया है. अधिक जानकारी के लिए संता के अधिकारी डॉ. एम एस जमरा के मोबाइल नंबर 8234843736 पर संपर्क किया जा सकता है.

English Summary: Poultry training program will run from February 24 to 26 Published on: 24 February 2022, 01:30 PM IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News