आप भी पाएं पोमैटो का डबल फायदा

वो दिन अब बीत गए जब कृषि क्षेत्र को उदासीन माना जाता था। पिछले 3-4 वर्षों में कृषि एक ऐसा क्षेत्र बनकर उभरा है जो आपको नित्य नए प्रयोगों से चैंकाता रहा है। यही नहीं इस क्षेत्र में इतनी संभावनाएं हैं कि इसमें कदम रखने वाले अब सिर्फ गरीब किसान बनकर नहीं रह जाएंगे बल्कि करोड़पति की फेहरिस्त में शामिल हो जाएंगे। हम आपको ऐसे ही एक नवीन प्रयोग के बारे में यहां बताने जा रहे हैं जिसे पोमैटो नाम दिया गया है। पोमैटो एक ऐसी फसल है जिसकी जड़ों में पोटेटो अर्थात् आलू व शीर्ष पर टोमैटो अर्थात् टमाटर की खेती कर डबल मुनाफा लिया जा सकता है।

यह कोई जेनेटिक इंजीनियरिंग का चमत्कार नहीं बल्कि ग्राफ्टिंग जैसे आसान व सरल तरीके से संभव है। ग्राफ्टिंग से पोमैटो के एक ही पौधे पर टमाटर व आलू को एक साथ उगाया जा सकता है। गौरतलब है कि यह तकनीक सन् 1977 में जर्मनी में विकसित की गई थी।

आपको बता दें कि टमाटर व आलू दोनों एक ही परिवार से हैं। ग्राफ्टिंग की सहायता से टमाटर व आलू के पौधों को आपस में मिला दिया जाता है जिससे दोनों पौधे एक-दूसरे के साथ पोषक तत्वों का आदान-प्रदान करते हैं। इससे इनकी बढ़वार काफी अच्छी होती है। ज्ञात रहे कि प्राकृतिक रूप से इस पौधे को नहीं उगाया जा सकता है और न ही इसके लिए किसी तरह के बीज की सहायता ली जा सकती है। एक छोटा-सा चीरा दोनों पौधों में लगाकर दोनों पौधों को आपस में जोड़ दिया जाता है।

हालांकि ऐसा करने पर भी दोनों पौध जेनेटिकली एक-दूसरे से अलग रहते हैं। एक बार जब चीरा लगाई हुई जगह भर जाती है और दोनों पौधे आपस मंे मिल जाते हैं तब आलू की पत्तेदार ऊपरी सतह व टमाटर की जड़ों को काट दिया जाता है। ऐसा करते वक्त यह ध्यान रखा जाता है कि टमाटर के पत्तियां न कटें क्योंकि यही पत्तियां आलू की जड़ों को पोषण देने का काम करती हैं।

आपको बता दें कि कई कंपनियां ग्राफ्टिंग की सहायता से ऐसे पौध तैयार करती हैं और बेबी प्लांट्स को कमर्शियली बेचकर बड़ा मुनाफा कमाती हैं। ऐसी ही एक कंपनी है यूके हॉर्टिकल्चर थॉम्पसन एंड मॉर्गन जिसने कमर्शियली टोमटैटो विकसित किया है। इसमें ऊपरी भाग चैरी टोमैटो का व निचला भाग व्हाइट पोटैटो का है, जिसे ग्राफ्टिंग की सहायता से एकसाथ जोड़ा गया है। यह पौधे एक साल तक अच्छी उपज देते हैं। एक पौधे से आप 500 टमाटर व 2 किलो आलू प्राप्त कर सकते हैं।

तो है न किसान भाइयों यह अनूठा तरीका जिसे अपनाकर आप भी अच्छी पैदावार के साथ-साथ बड़ा मुनाफा अर्जित कर सकते हैं।

Comments