1. ख़बरें

PM Kisan Scheme के तहत अभी भी करोड़ों किसानों को नहीं मिल रहा 6000 रुपए का लाभ, जानिए इसकी वजह?

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi scheme) से लगभग 4 करोड़ किसान वंचित रह गए हैं. केंद्रीय कृषि मंत्रालय की मानें, तो 20 अगस्त तक 10 करोड़ 44 लाख से अधिक रजिस्ट्रेशन किए गए हैं. इन किसानों को किसी न किसी किस्त का लाभ मिल चुका है. मगर अभी भी देश में लगभग 14.5 करोड़ किसान परिवार ऐसे हैं, जो इस लाभ से वंचित हैं. यानी अभी तक उन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है. इन किसान परिवारों को जल्द ही रजिस्ट्रेशन कराना चाहिए, ताकि खेती के लिए सालाना 6000 रुपए की मदद मिल पाए.

कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी के मुताबिक...

सरकार का प्रयास है कि सभी किसानों तक इस योजना का लाभ पहुंचाया जाए. मगर इसके लिए पर्याप्त कागजात होना ज़रूरी है. एक घर में कई लोगों को इस योजना का लाभ मिल सकता है.

योजना की शर्तें

  • आवेदक बालिग होना चाहिए.

  • राजस्व रिकॉर्ड (Revenue Record) में उनका नाम दर्ज होना चाहिए.

  • अगर खेती के कागजात में किसी का नाम है, तो इस आधार पर योजना का लाभ ले सकता है. फिर चाहे वह वो संयुक्त परिवार का हिस्सा ही क्यों न हो.

ये खबर भी पढ़े : गन्ना किसानों के लिए खुशखबरी: वर्ष 2020-21 में 285 रुपए प्रति क्विंटल बिकेगी फसल, केंद्र सरकार ने 10 रुपए बढ़ाया FRP

कौन नहीं ले सकता लाभ

  • भूतपूर्व या वर्तमान में संवैधानिक पद धारक को योजना लाभ नहीं मिलता हैं.

  • वर्तमान या पूर्व मंत्री, मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष नहीं हों.

  • इसके अलावा विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सांसद हैं, तो उन्हें इस योजना के दायरे से बाहर रखा जाता है. फिर चाहे वह भले ही किसानी करते हों.

  • केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी और 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं दिया जाता है.

  • अगर कोई डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट है फिर भी खेती भी करता है, तो उसे लाभ नहीं दिया जाएगा.

  • पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले किसान योजना से वंचित होंगे.

  • केंद्र और राज्य सरकार के मल्टी टास्किंग स्टाफ/चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों को लाभ मिल पाएगा.

खुद कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन

किसान https://pmkisan.gov.in/ पर जाकर खुद ही अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. इसका उद्देश्य सभी किसानों को योजना से जोड़ने का है और रजिस्टर्ड किसानों को समय पर लाभ पहुंचाना है. बता दें कि जब से कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) की इस सुविधा की शुरुआत की है, तब से किसानों के ब्योरे में आई गलतियों को सही करने और वेरीफिकेशन में काफी कम समय लगता है.

ये खबर भी पढ़े: तारबंदी योजना के तहत किसान 50% सब्सिडी पर खेतों में लगवाएं कटीले तारों की बाड़, जानें ऑफलाइन और ऑनलाइन आवेदन करने की प्रकिया

English Summary: PM Kisan scheme, crores of farmers are still not getting the benefit of 6000 rupees

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News