जैविक ईंधन को मिला पेटेंट

पंतनगर विश्वविद्दालय के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित किए गए बायोफ्यूल को केंद्र सरकार द्वारा पेटेंट दे दिया गया है। आप को बता दें विश्वविद्दालय के प्रोद्दोगिकी महाविद्दालय के वीराप्रसाद गोडूगुला,डॉ. जयंत सिंह,डॉ. टी.के भट्टाचार्य एवं डॉ. एम.पी सिंह की टीम ने जैविक ईंधन का विकास किया है, जिसे आवेदन की तिथि से 20 वर्षों की अवधि के लिए पेटेंट दिया गया है। इस बीच डॉ. जयंत सिंह ने बताया है कि ये जैविक ईंधन करंजा तेल के एस्टर व एथेनॉल का मिश्रण है। इसके द्वारा कोई भी डीज़ल इंजन चलाया जा सकता है।

इस जैविक ईंधन को डीज़ल के स्थान पर उपयोग करने पर ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में कमी पायी गई है। वैज्ञानिकों की इस सफलता पर विश्वविद्दालय के कुलपति डॉ. .के मिश्रा एवं प्रोद्दोगिकी महाविद्दालय के अधिष्ठाता डॉ.एच.सी शर्मा ने बधाई देने के साथ-साथ वैज्ञानिकों को अधिक से अधिक पेटेंट कराने को कहा है।

Comments