1. ख़बरें

खुशखबरी ! अब 600 रुपये में डायलिसिस, तो 50 रुपये में MRI का जांच करवा सकेंगे

MRI scan

इस महंगाई के दौर में किसी बड़ी बीमारी का किसी प्राइवेट अस्पताल में इलाज करवाना आम आदमी के लिए बहुत मुश्किल काम है. उसका खर्च उठाना मरीजों के परिजनों के लिए काफी परेशानी का सबब बन जाता है. आये दिन मीडिया जगत में  भी  ये ख़बरें आती है कि पैसों की कमी के वजह से मरीज का सही ढंग से इलाज नहीं हो पाया और वो अस्पताल छोड़कर चले गए. या फिर बीमारी से संबंधित डॉक्टर न मिलने के वजह से मरीजों एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भटकना पड़ रहा है. लेकिन जल्द ही इस समस्या से निजात मिल सकती है.

गौरतलब है कि सरकारी अस्पतालों में लगातार बढ़ती भीड़ के कारण लोगों को इलाज और जांच के लिए काफी लंबा इंतजार करना पड़ता है. एमआरआई (MRI Scan) और सीटी स्कैन (CT Scan) जैसी जांच प्राइवेट लैब में बहुत मंहगी पड़ती हैं इसलिए लोग सरकारी अस्पतालों की ओर भागते हैं. मगर आपके लिए खुशखबरी है.

blood

50 रुपये में एमआरआई टेस्ट

दरअसल दिल्ली के बंगला साहिब गुरुद्वारे में जरूरतमंद लोग 50 रुपये में एमआरआई करा सकेंगे. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी केमुताबिक, देश की सबसे सस्ती नैदानिक सुविधा दिसंबर में गुरुद्वारा बंगला साहिब में शुरू हो जाएंगी.

डायलिसिस प्रक्रिया में खर्च होंगे केवल 600 रुपये

डीएसजीएमसी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि गुरुद्वारा परिसर में गुरु हरकिशन अस्पताल में एक डायलिसिस सेंटर भी स्थापित किया जा रहा है. यह अगले सप्ताह से काम करना शुरू कर देगा. डायलिसिस प्रक्रिया में केवल 600 रुपये खर्च होंगे.

150 रुपये में करवा सकेंगे एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड

उन्होंने बताया कि MRI सेवाएं 50 रुपये में जरूरतमंदों के लिए उपलब्ध होंगी. अन्य लोगों को एमआरआई स्कैन (MRI scan) पर 800 रुपये खर्च करने पड़ेंगे. निम्न आय वर्ग के लोग केवल 150 रुपये में एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड करवा सकेंगे.

English Summary: Now dialysis for Rs 600, then you will be able to get an MRI check for Rs 50

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News