1. ख़बरें

किसानों के लिए जरूरी खबर, इस महीने नहीं बढ़ेंगे इन खादों के दाम, जानें अभी के लेटेस्ट प्राइस

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Kisan

ऐसे वक्त में जब आम जनता पर महंगाई की मार हावी हो चुकी है. आम जनता बेहाल हो रही है. ऐसी स्थिति में किसानों के लिए राहतभरी खबर सामनें आ रही है. दरअसल, खबर है कि इस महीने खाद के दाम नहीं बढ़ेंगे.

इफको ने खुद इस बात का ऐलान किया है. इससे पहले भी किसानों को राहत देते हुए खाद के दाम नहीं बढ़ाने का ऐलान किए थे. वहीं, अब इफको ने (DAP), एनपीके (NPK) और एनपीएस के दाम में आगामी 31 मार्च तक कोई इजाफा नहीं करने का फैसला किया है. इफको ने इस संदर्भ में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि डीएपी 1200 रूपए, एनपीके 1175 रूपए निर्धारित किया गया है. इस तरह का फैसला इसलिए लिया गया है, ताकि किसानों के उत्पादन शुल्क में कमी आए.

खाद के दाम में नहीं हुआ इजाफा  

वहीं, अगर उर्वरकों के दाम की बात करें, तो इनकी कीमतों में भी कोई इजाफा दर्ज नहीं किया गया है. फिलहाल तो कंपनी के इस फैसले से देशभर के किसान भाई राहत की सांस लेते हुए नजर आ रहे हैं. गौरतलब है कि कंपनी की इस फैसले को किसानों की आय को दोगुना करने के लिहाज से भी बेहद अहम माना जा रहा है. बता दें, कि केंद्र सरकार किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में लगातार प्रयासरत है. किसानों के आर्थिक समृद्धि के लिए कई योजनाएं भी लाई गई हैं, जो किसानों के लिए कारगर साबित होती हुई भी नजर आ रही है.

भारत में इफको के प्लांट

इसके साथ ही भारत में इफको के मौजूदा वक़्त में 5 प्लांट है. इफको ने सामान्य बीमा, ग्रामीण दूरसंचार, ग्रामीण खुदरा, कृषि रसायन, खाद्य प्रसंस्करण और ऑर्गेनिक्स में निवेश करके अपने कारोबार में इजाफा किया है. इस दिशा में लगातार कंपनी प्रयासरत है. बहरहाल, अब इन सभी सरकार के इन सभी परियोजनाओं का किसानों पर क्या कुछ असर पड़ता है. यह तो  फिलहाल अब आने वाला वक्त ही बताएगा.

English Summary: No change in the price of manure

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News