1. ख़बरें

सावधान: ट्रैक्टर ट्राली पर भी लागू होगा न्यू मोटर एक्ट, ऐसे समझें कानून

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार
TRACTOR

न्यू मोटर व्हीकल एक्ट आने के बाद से देशभर में खलबली मची हुई है. आपने भी टीवी-अखबारों में ऐसी ख़बरें जरूर देखी या पढ़ी होंगी, जहां सही दास्तावेजों के आभाव में या नियम भंग करने पर लोगों के 50 हजार से ऊपर तक के चलान कट रहे हैं. ऐसे में आपको भी पता होना चाहिए कि नया मोटर एक्ट आने से क्या-क्या बदल गया है और आपकों किन-किन परिस्थितियों में जेल जाना या चलान भरना पड़ सकता है. ध्यान रहे कि ट्रैक्टर या ट्राली को भी नए मोटर एक्ट के तहत भारी वाहन माना गया है और इसलिए इस पर भी भारी वाहन के सभी नियम लागू होंगे. चलिए हम आपको बतातें हैं कि अगर आप भी ट्रैक्टर- ट्राली का प्रयोग कर रहें हैं तो आपके पास कौन-कौन से दास्तावेज होने चाहिए.

भारी वाहन का लाइसेंस होना जरूरी

ट्रैक्टर-ट्राली को चलाने के लिए आपके पास भारी वाहन चलाने का परमिट यानि लाइसेंस होना जरूरी है. ऐसा न होने कि स्थिति में आप पर भारी जुर्माना या आपको जेल हो सकती है. ध्यान रहें कि बिना परमिट के अगर आप द्वारा ट्रैक्टर या ट्राली चलाते हुए किसी की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो जमानत नहीं मिलेगी. इस स्थिति में आपको जुर्माना या जेल या दोनों की सजा होना तय है.

फिटनेस और बीमा सर्टिफिकेट अनिवार्य:

नया मोटर एक्ट के आने के बाद से ट्रैक्टर या ट्राली के लिए बीमा और फिटनेस सर्टिफिकेट होना अनिवार्य हो गया है. आपकी गाड़ी सही कंडीशन में ना होने पर या जुगाड़ गाडी की तरह गैर कानूनी तौर पर इस्तेमाल करने पर आपको भरी जुर्माना हो सकता है.

TRACTOR

कमर्शियल प्रयोग करना पड़ेगा भारी:

अपनी निजी ट्रैक्टर का प्रयोग गैर कानूनी तौर पर कमर्शियल पर्पस के लिए करना आपको भारी पड़ सकता है. क्योंकि नए मोटर एक्ट में इसकी मनाही है. इसी तरह से ट्रैक्टर-ट्राली पर सवारी लेकर जाना भी मना है. ऐसा करने की स्थिति में भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है.

English Summary: new motor vehicle act for farmers be aware for few rules

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News