1. ख़बरें

National Conference on Millets: बाजरा पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन, बनेगा भारत के लिए भविष्य का सुपर फूड

आज नई दिल्ली के ले मेरिडियन होटल में बाजरा पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसका विषय द फ्यूचर सुपर फूड फॉर इंडिया रखा गया.

अनामिका प्रीतम
National Conference on Millets in Delhi
National Conference on Millets in Delhi

दुनिया के सबसे अधिक कुपोषण वाले देशों में भारत का उच्चतम स्थान है. भारत में दशकों से खाद्य सुरक्षा एक गंभीर समस्या बनी हुई है, जिसकी वजह से कुपोषण के शिकार लोगों की संख्या भी लगातार बढ़ती चली गई है.

इसके लिए सरकार ने खाद्य सुरक्षा (food security) को लेकर कई कार्यक्रम चलाएं है, फिर भी आवश्यक सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी वाले भोजन की खराब गुणवत्ता और भंडारण की अस्वच्छ स्थिति हमारे देश में एक बड़ी समस्या है.

बाजरा को बनाया जा रहा भारत का सुपर फूड

इसी के मद्देनजर कई खाद्य कंपनियां और सरकार बाजरा को भारत के भविष्य के लिए सुपर फूड के तौर पर बढ़ावा देने का काम कर रही है, क्योंकि बाजरा भारत में कई समुदायों और क्षेत्रों का मुख्य भोजन है.

वहीं, बाजरा का उत्पादन कर किसान कम समय में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं, क्योंकि बाजरा स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होता है. ऐसे में भारत के भविष्य में इसके उपयोग को बढ़ाकर जहां लोगों के स्वास्थ्य में सुधार होगा, तो वहीं इसका सीधा फायदा किसानों को भी मिलेगा.

ये भी पढ़ें: बाजरे की खेती की पूरी जानकारी

दिल्ली में बाजरा पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन

इसी सिलसिले में गुरुवार को नई दिल्ली के ले मेरिडियन होटल में बाजरा पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया है. इस आयोजन को एसोचैम (ASSOCHAM) ने भारत सरकार के खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय (Ministry of Food Processing Industries) के सहयोग से आयोजित किया. 

इसका विषय भारत के लिए भविष्य का सुपर फ़ूड (The Future Super Food for India) रखा गया है.  इस कार्यक्रम में कई बड़ी खाद्य कंपनियों के सदस्यों ने बाजरा से बने खाद्य उत्पादों के फायदे और इसे बढ़ावा देने पर जोर दिया.

English Summary: National Conference Millets: Organized a national conference on millet, will be the future super food for India Published on: 23 June 2022, 05:49 IST

Like this article?

Hey! I am अनामिका प्रीतम . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News