News

Crop Purchase: 1 मई से सरसों और चना की समर्थन मूल्य पर खरीद, खेतों के नजदीक बनाए गए केंद्र

राजस्थान के किसानों के लिए एक अच्छी खबर है. दरअसल, प्रमुख शासन सचिव सहकारिता व कृषि नरेश पाल गंगवार ने बताया है कि राज्य में 1 मई से 782 खरीद केंद्र पर सरसों और चने की समर्थन मूल्य पर खरीद शुरू होगी. खास बात है कि इस साल खरीद केंद्रों की संख्या बढ़ा दी गई है. इसके साथ ही किसानों के खेत के नजदीक ही उपज बेचान की व्यवस्था कराई गई है, ताकि किसान को इस संकट की घड़ी में ज्यादा भागना न पड़े.

90 दिनों तक चलेगी खरीद

आपको बता दें कि राज्य में सरसों और चने की समर्थन मूल्य पर खरीद 90 दिन तक चलने वाली है. इस दौरान करीब 16.62 लाख मीट्रिक टन उपज की खरीद होनी है. बता दें कि खरीद केंद्रों पर कृषि पर छाया, पानी और बिजली की पर्याप्त व्यवस्था की गई है.

कितने प्रति क्विंटल की दर से होगी खरीद

किसानों की सरसों की उपज 4425 और चने की उपज को 4875 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदी जाएगा. बता दें कि कोटा संभाग में 16 अप्रैल से समर्थन मूल्य पर खदीर जारी है. इसमें करीब 5500 से अधिक किसानों से 19 हजार 412 मीट्रिक टन की खरीद हो चुकी है. खास बात है कि किसानों से सीधी खरीद के लिए 136 मुख्य अनाज मंडियों में से 130 मंडियों, 296 गौण मंडियों में से 280 मंडियां अपने काम में जुट गई हैं. इसके साथ ही सभी स्थानीय व्यापारियों को भी लाइसेंस कर दिए गए हैं. सरकार का कहना है कि इस खरीद से किसानों को काफी लाभ मिलेगा, साथ ही उनकी आय में भी बढ़ोतरी होगी.

इन केन्द्रों पर होगी खरीद

राज्य में 1 मई से कृषि मंडी पाली, जैतारण, मारवाड़ जंक्शन, सोजत रोड, रायपुर, सुमेरपुर रानी, बाली, केवीएसएस सुमेरपुर, जैतारण, जीएसएस अटपड़ा, दादाई, मुडारा खुडाला, निमाज, कुशालपुरा, बूसी, कोसेलाव समेत सांडेराव में समर्थन मूल्य पर खरीद की जाएगी. यहां खरीद के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइज़र, मास्क का उपयोग करने का सख्त निर्देश दिया गया है.

ये खबर भी पढ़ें:Krishi Input Subsidy: किसानों को फरवरी-मार्च में हुई फसलक्षति का मिलेगा भुगतान, 4 से 11 मई तक करें आवेदन



English Summary: Mustard and gram to be purchased from Rajasthan farmers at support price

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in