News

गांवों में लॉकडाउन के पालन की जवाबदेही मुखिया की, आपदा प्रबंधन विभाग ने भेजा निर्देश

देशभर में कोरोना का कहर लगातार जारी है. शहरों से होते हुए अब ये बीमारी गांवों कस्बों तक पहुंचने लगी है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लॉक डाउन को और सख्त करते हुए, अब इसे गांवों-कस्बों में गंभीरता से लागू कर दिया गया है. इसके लिए बाकायदा मुखिया और पार्षद की जवाबदेह तय की गई है.

जी हां, अब संबंधित ग्राम क्षेत्र में लॉक डाउन किसी भी कीमत पर टूटी तो उसकी जिम्मेदारी मुखिया और पार्षद की होगी. पार्षद और मुखिया को इसके बारे में समय-समय पर मानिटरिंग भी करके जानकारी प्रशासन को देनी होगी. ग्रामीणों की जरूरतों, परेशानियों एवं सुझावों से प्रशासन को अवगत कराना भी मुखिया और पार्षद का ही काम होगा.

 

मुखिया को करवाना होगा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

सरकार ने स्पष्ट कह दिया है कि गांवों के भीतर लॉक डाउन के दौरना सोशल डिस्टेंसिंग का पालन गंभीरता से किया जाए. सभी जरूरी कामों को छोड़कर हर तरह के कार्य फिलहाल रोक दिए जाएं. किसी भी तरह की गड़बड़ी पर संबंधित पंचायत का मुखिया और वार्ड पार्षदों की जवाबदेही तय रहेगी. हालांकि किसी भी तरह की जरूरत के लिए मुखिया स्थानीय प्रशासन की सहायता और सहयोग ले सकता है.

भारत में कोरोना पीड़ितों की तादाद नौ हजार पार

भारत में कोरोना पीड़ितों की तादाद नौ हजार पार हो चुकी है. इस बारे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि अभी तक मरीजों की संख्या 9152 हो चुकी है जबकि इस बीमारी से 308 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि अभी भी हालात भारत के काबू में हैं और लोगों के सहयोग से इस जंग को जीता जा सकता है. बता दें कि अभी तक 1.14 लाख से अधिक लोगों की दुनिया भर में इस वायरस के कारण मृत्यु हो चुकी है और 18 लाख से अधिक लोग इसकी चपेट में हैं. सबसे अधिक हालत अमेरिका की खराब है. वहां 5.5 लाख से अधिक लोग इस वायरस के चपेट में आ चुके हैं.  



English Summary: mukhiya and parshad will be responsible if lockdown will break in villages in bihar

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in