1. ख़बरें

मोदी सरकार के इस प्लान से 27 लाख लोगों के चेहरों पर आएगी खुशी, जानिए कैसे

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

जब से देश पर कोरोना का संकट छाया है, तब से मोदी सरकार प्रयास कर रही है कि इस स्थिति में किसी भी वर्ग के लोगों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े. कभी सरकार द्वारा गरीब लोगों को मुफ्त में राशन दिया जा रहा है, तो कभी किसानों के खाते में पीएम किसान योजना की किस्त डाली जा रही है. इसके अलावा जन-धन खाते में पैसा डालना, मजदूरों को रुपए देना समेत कई योजनाओं का ऐलान किया जा चुका है. कुल मिलाकर मोदी सरकार ने करोड़ों रुपए का राहत कोष देने का ऐलान किया है. इसी कड़ी में एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी पोटली खोली है, जिससे लगभग 27 लाख लोगों को बड़ी राहत मिलने वाली है.

सरकार की पोटली से मिलेगी राहत

सरकार की पोटली खोलने के बाद असहाय और निराश्रित बुजुर्गों, विधवाओं, दिव्यांगों के साथ जनधन खाताधारकों को काफी राहत मिलेगी. बता दें कि सरकार 3 महीने की अतिरिक्त पेंशन खाते में डालेगी. सभी लोगों के खाते में यह राशि 2 किस्तों में डाली जाएगी. सरकार का प्रयास है कि सभी पात्र लोगों को आसानी से पैसा मिल जाए. इसके लिए समाज कल्याण महकमे और बैंकों को भी खाते दुरुस्त रखने का निर्देश दिया गया है. बता दें कि कोरोना संकट की वजह से देशभर में लॉकडाउन चल रहा है. इसमें गरीब, असहायों, मजदूर और वंचित लोगों को शामिल किया गया है.

दो मोर्चों पर जंग लड़ रही सरकार

इस वक्त केंद्र और राज्य सरकार दो मोर्चों पर जंग लड़ रही है. एक मोर्चा कोरोना वायरस का संक्रमण है, तो दूसरा मोर्चा लॉकडाउन की स्थिति है. ऐसे में सरकार को सभी प्रभावित लोगों को राहत पहुंचानी है, इसलिए सरकार किसानों समेत सभी लोगों के लिए अहम कदम उठा रही है. सरकार द्वारा खाद्य सुरक्षा योजना के तहत लाभ पहुंचाया गया है, तो वहीं राशन कार्डधारकों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है. अब बारी वृद्धों, विधवाओं समेत सामाजिक सुरक्षा पेंशन के पात्रों की है. सरकार इन सबके चेहरों पर जल्द ही खुशी बिखेरने वाली है. पीएम नरेंद्र मोदी ने इसका ऐलान भी कर दिया है. इस तरह कई लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन का लाभ मिलेगा. इनके साथ ही कई लोगों के खातों में 3 महीने तक पेंशन पहुंचाई जाएगी. 

ये खबर भी पढ़ें: उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को मुफ़्त में मिलेगा गैस सिलेंडर, खाते में आएंगे पैसे

English Summary: modi government will provide relief to 27 lakh people

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News