मोदी ने किसानों को जैविक खेती करने की सलाह दी....

....

दिल्ली के राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान संस्थान में लगे कृषि मेले को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि हमें उन परंपराओं को छोड़ देना चाहिए, जो आज के समय के अनुकूल नहीं है। 

कृषि उन्नति मेले में किसानों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पुरानी कहावत है कि एकता में शक्ति है। यह बात किसानों, उत्पादकों और मैन्युफैक्चरर्स पर भी लागू होती है। यदि किसान समूह में काम करेंगे तो लागत कम लगेगी और अधिक आय होगी। इससे खेत से लेकर उपभोग तक बढ़ने वाली कीमत का ज्यादा लाभ किसानों को ही मिलेगा। पीएम मोदी ने कहा कि बजट में सरकार ने कृषि उत्पादों से जुड़ी कंपनियों को को-ऑपरेटिव सोसायटी की तरह ही ताकत दी जाएगी। 

पीएम मोदी ने कहा कि ऑर्गेनिक प्रॉडक्ट्स के लिए ई-मार्केटिंग पोर्टल का मैंने सुझाव रखा था, इसका उद्घाटन देख मुझे खुशी है। पीएम मोदी ने कहा कि ऑर्गेनिक प्रॉडक्ट्स पर मेरा जोर इसलिए है क्योंकि ये जितने पुराने हैं, उतने ही आधुनिक भी हैं। आज देश में 22 लाख हेक्टेयर से ज्यादा भूमि पर ऑर्गेनिक खेती होती है। उन्होंने कहा कि विशेष तौर पर नॉर्थ ईस्ट को ऑर्गेनिक खेती के हब के तौर पर विकसित किया जा रहा है। हम जितना ज्यादा ऑर्गेनिक रिवॉल्यूशन पर ध्यान देंगे, उतना ही किसानों की भूमिका बढ़ेगी।

Comments