MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

मिलिए 21 करोड़ वाले मोदी भैंसे से, वजन जानकर रह जायेंगे हैरान!

हिमाचल प्रदेश के सोलन में एक पशु मेले का आयोजन किया गया था. जहाँ देशभर से शक्तिशाली भैंसों को प्रदर्शित किए गए. इस दौरान ऐला लगा कि भारत को एक और "सुल्तान" मिल गया है. दरअसल, सुल्तान 21 करोड़ की मुर्रा भैंस थी, जिसकी कुछ महीने पहले दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी.

रुक्मणी चौरसिया
Modi Buffalo
Modi Buffalo

हिमाचल प्रदेश के सोलन (Himachal Pradesh's Solan) में एक पशु मेले का आयोजन किया गया था. जहाँ देशभर से शक्तिशाली भैंसों को प्रदर्शित किए गए. इस दौरान ऐला लगा कि भारत को एक और "सुल्तान" मिल गया है. दरअसल, सुल्तान 21 करोड़ की मुर्रा भैंस थी, जिसकी कुछ महीने पहले दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी. बता दें कि वह अपनी सुंदरता और अपने वीर्य की गुणवत्ता के लिए प्रसिद्ध थे.

क्यों अनोखा है यह भैंसा (Why is this buffalo unique?)

इसका तेलिया शरीर, चिकनी ग्रे-काली खाल और चमकती आंखें सभी को आकर्षित करता है. इसको देखने के लिए लोगों का झुंड लगातार लगा रहता है. इस भैंसे के शुक्राणु से मालिक हर साल 90 लाख रुपये से अधिक कमाई करते है, क्योंकि इसके वीर्य की मार्किट में भारी मांग है. इस भैंसे का नाम उसके मालिक वीरेंद्र सिंह (Virendra Singh) ने मोदी (Modi Bhens) रखा है. उसने दावा किया है कि इसने सुल्तान को एक लड़ाई में हरा भी दिया था और इसलिए उसकी कीमत उससे कहीं अधिक है.

मोदी भैंसा की विशेषताएं (Features of Modi Buffalo)

मोदी-भैंसा 5 फीट 9 इंच लंबा है. यह रोजाना 20 तरह का खाना खाता है. इसकी देखभाल पर सालाना एक करोड़ रुपये से ज्यादा का खर्च होता है.

अगर इसके वजन की बात करें, तो इनके मालिक वीरेंद्र सिंह ने बताया की इसका वजन 500 किलो से भी ऊपर है. वीरेंद्र सिंह ने बताया कि यह भैंसा सिर्फ 6 साल की है, लेकिन यह एक हाथी को टक्कर दे सकता है. यह जिस भी पशु मेले में आता है, उसका गौरव बन जाता है. यह सभी का दिल जीत लेता है और हमेशा सबसे पहले आता है.

यह भी पढ़ें: Top Buffalo Breeds: भैंस पालन से ज्यादा मुनाफा पाने के लिए करें इन नस्लों का पालन

यह 18 दिसंबर को सोलन नौनी विश्वविद्यालय में प्रदर्शनी में भी आया, जहां केंद्रीय पशुपालन मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला मुख्य अतिथि थे. वह भी इस भैंस से बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने इस भैंस को स्थायी चैंपियन भी घोषित कर दिया. इसके मालिक वीरेंद्र सिंह भैंसा को स्थायी विजेता घोषित किए जाने पर बहुत खुश हुए. आज पूरा पंजाब और उनका गांव इस भैंसे पर गर्व करता है.

जानिए इस भैंसे की खासियत (Know this specialty of this buffalo)

इसकी देखभाल और खिलाने पर सालाना लगभग 1 करोड़ खर्च किया जाता है. वह रोजाना पांच किलोमीटर पैदल चलता है. उसकी नहाने के बाद तेल की मालिश की जाती है. इसकी माता लक्ष्मी 25 लीटर दूध देती है. इसे राष्ट्रीय स्तर की प्रदर्शनियों में विशेष रूप से आमंत्रित किया जाता है.

English Summary: Meet the 21 crore Modi buffalo, you will be surprised to know the weight! Published on: 21 December 2021, 04:30 PM IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News