News

महिंद्रा समृद्धि पुरुस्कार से किसानों को राष्ट्रीय स्तर पर मिली पहचान, कृषि मंत्री ने स्वयं किया सम्मानित

किसानों की मेहनत एवं देश में खेती को एक प्रतिस्पर्धात्मक बनाने के उद्देश्य से महिंद्रा समृद्धि पुरुस्कार का आठवां संस्करण नई दिल्ली में संपन्न हुआ। खेती की दिशा में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले को श्रेणीबद्ध कर परुस्कृत किया गया। इस दौरान केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे। इसके अतिरिक्त कृषि सचिव एस.के पट्टनायक ने भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। प्रगतिशील किसान भारी संख्या में खेती को एक नया मुकाम देने की पहल को स्वीकारते हुए उपस्थित रहे।

ज़ी मीडिया की पार्टनरशिप में आयोजित इस कार्यक्रम में वैज्ञानिक, प्रगतिशील किसान एवं कृषि अधिकारियों की उपस्थिति में किसानों को उनके सराहनीय कार्य के लिए सम्मानित किया गया। आप को बता दें कि युवा किसान श्रेणी, क्षेत्रफल की श्रेणी के अनुसार सम्मान मिला। कृषि मंत्री ने स्वयं किसानों को पुरुस्कार प्रदान किए गए। इस बीच मौके पर इन किसानों की कहानी एक प्रदर्शनी के माध्यम से दिखाई गई। जिससे किसान देखकर गौरवान्वित हुए।

बताते चलें कि महिंद्रा समृद्धि सम्मान में युवा कृषक सम्मान जब पश्चिम बंगाल की प्रगतिशील किसान सुशीला को दिया गया तो वह क्षण महिलाओं की कृषि में बढ़ती रुचि एवं उनकी कुछ सीखने की क्षमता का परिचायक बना। जिसको सराहते हुए मौके पर मौजूद लोगों ने अपनी जोरदार तालियों की गूंज से समर्थन दिया।

इसके अतिरिक्त कृषि प्रेरणा सम्मान उत्तर प्रदेश की अनु त्यागी, सीमांत एवं लघु किसान श्रेणी में हिमाचल प्रदेश के हरिमन शर्मा को कृषक सम्मान सम्राट, जबकि 5 एकड़ से ऊपर की श्रेणी में राजस्थान के मदन लाल देउरा,20 एकड़ से ऊपर की श्रेणी में राजस्थान के इशाक अली को कृषक सम्मान से नवाजा गया।

उल्लेखनीय कृषि को बेहतर बनाने के लिए कृषि विश्वविद्दालय जब दिन रात कड़ी मेहनत कर रहें तो ऐसे में कृषि शिक्षा सम्मान के तौर पर प्रथम पुरुस्कार जूनागढ़ कृषि विश्वविद्दालय जबकि उपविजेता के तौर पर गोविंद वल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्दोगिकी विश्वविद्दालय को द्वितीय पुरुस्कार दिया गया। कृषि विज्ञान केंद्रों की लगातार कृषि प्रदर्शन एवं किसानों तक बढ़ती पहुंच के कारण कृषि विज्ञान केंद्र सम्मान से राजस्थान के बाड़मेर को पुरुस्कृत किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने अपनी मौजूदा सरकार के प्रयासों को सराहते हुए कहा कि सरकार लगातार किसानों की आय दो गुनी एवं उनके मेहनत का पारितोषिक देने के लिए प्रतिबद्ध है। साथ ही कृषि शिक्षा के प्रसार के लिए भी सरकार द्वारा बजट का निरंतर बजट वृद्धि की जा रही है। उन्होंने लाइफटाइम एचीवमेंट अवॉर्ड से पुरुस्कृत किए गए वैज्ञानिक दीपक पेंटल के कार्य को सराहते हुए कहा कि अनुसंधान कार्य पर सुविधा बढ़ाने पर भी सरकार ध्यान देगी।

समारोह के दौरान मैनेजिंग डायरेक्टर महिंद्रा एंड महिंद्रा पवन गोयनका एवं सी.ई.ओ एवं एम.डी महिंद्रा एग्री साल्यूशंस लिमिटेड अशोक शर्मा ने भी संबोधित किया। जिन्होंने महिंद्रा द्वारा कृषि को स्मार्ट बनाने के लिए माई एग्री गुरु एप व कस्टम हायरिंग, आधुनिकतम तकनीकी वाले उपकरण व समृद्धि केंद्रों के बारे में बताया।



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in