News

जंगली जानवरों से हुए नुक्सान को फसल बीमा से जोड़ा गया

जंगली जानवरों और पशुओं से भी होने वाले नुकसान को अब प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना से जोड़ा जाएगा| केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने सांसदों की मांग पर अब खेतो में हुए जानवरों द्वारा नुकसान की भरपाई करने के लिए फसल बीमा योजना से जोड़ा जाएगा |फिलहाल इस योजना को कुछ जिलों में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया गया है

कृषि मंत्री ने बताया  कि इस योजना के दायरे में बारहमासी बागवानी फसलों को भी पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर शामिल किया गया है। अभी इसे केवल मौसम आधारित बीमा योजना में शामिल किया गया है। स्थानीय आपदा में खेतवार नुकसान का आकलन पहले नहीं होता था। लेकिन नई योजना में ओलावृष्टि, जलभराव, भूस्खलन जैसी आपदाओं में खेतवार फसल नुकसान का आकलन दो वर्षों से हो रहा है।

कृषि मंत्री ने समीक्षा करते हुए कहा की फसल बीमा योजना के तहत बदल फटने,आग लगने ,या मौसम सम्बन्धी किसी भी नुक्सान की भरपाई आंकलन के बाद किया जाएगा साथ ही इस योजना से देश के सभी किसानों को जोड़ा जाएगा जिससे किसानों के फसलों का हुए नुक्सान की भरपाई तय समय पर की जा सके|



Share your comments