जानिए वैश्विक किसान निकाय ने भारतीय किसान समुदाय को कौन सी अनूठी सौगात दी

अंतर्राष्ट्रीय मिर्च समुदाय ने कृषि समुदाय के ज्ञान आधार को सुविधाजनक बनाने और बाजार लिंक स्थापित करने के लिए ऑल इंडिया मसाला निर्यातकों फोरम के साथ हाथ मिलाया है।

जकार्ता स्थित आईपीसी एक ऐसा मोबाईल ऐप बनाया है जिसे भारतीय कृषि समुदाय के बीच ऑल इंडिया मसाला निर्यातकों फोरम (एआईएसईएफ) द्वारा प्रसारित और पेश किया जा

कोच्चि में एआईएसईएफ के चेयरमैन प्रकाश नंबूदिरी, कार्यकारी निदेशक, आईपीसी होआंग थाई लिएन  ने इस प्रभाव को तत्कालीन रुप से लागु करने के लिए एक पत्र पर हस्ताक्षर किए

अगस्त में लॉन्च किया जाने वाला ऐप, मिर्च की खेती के तरीकों में किसानों की सहायता के लिए डिज़ाइन किया गया एक इंटरैक्टिव मंच है।

ऐप किसानों को फसल को प्रभावित करने वाली कीट या बीमारी की पहचान करने और नियंत्रण उपायों को लेने में मदद करेगा।

सिफारिशों या प्रौद्योगिकी में कोई भी बदलाव किसानों के मोबाइल फोन पर वास्तविक समय अपडेट किया जा सकता है।

यह उन्हें मिर्च बाजारों में दीर्घकालिक वैश्विक मूल्य प्रवृत्तियों के साथ भी सहायता करेगा, जिससे उन्हें खेती के क्षेत्र को बढ़ाने या बेहतर कीमतों की प्रत्याशा में स्टॉक रखने के मामले में सही निर्णय लेने के लिए तैयार करेगा।

इसमें बाजार प्रबंधन के मामले पर भी एक सुविधा दी गयी है।

नंबूदिरी ने व्यापार में बड़े बदलाव लाने की जरूरत पर बल दिया ताकि भारतीय मसाला उद्योग को 3 बिलियन डॉलर के मौजूदा स्तर से $ 5 बिलियन तक ले जा सके।

 

भानु प्रताप

कृषि जागरण

 

Comments