MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

Tree Scooter: किसान ने बनाया पेड़ पर चढ़ने वाला स्कूटर, मिनटों में होता है खेती से जुड़ा काम

देश के कर्नाटक के मंगलुरू के रहने वाले किसान गणपति भट्ट ने एक ऐसा स्कूटर बनाया है जो मात्र 30 सेकेंड में ही लंबे-लंबे पेड़ की ऊंचाईयों पर आसानी से चढ़ जाता है. इस स्कूटर का नाम उन्होंने ‘ट्री स्कूटर’ (Tree Scooter) रखा हैं. आईये जानते है इस स्कूटर की खासियत-

अनामिका प्रीतम
ट्री स्कूटर

आपने इंसानों और जानवरों को तो पेड़ पर झट से चढ़ते हुए जरूर देखा होगा,लेकिन क्या आपने कभी किसी स्कूटर के सेकेंडों में पेड़ पर चढ़ जाने के बारे में सुना है. कोई स्कूटर भला पेड़ पर कैसे चढ़ सकता है ये पढ़कर और सुनकर भी आपको अजूबा लग रहा होगा.

आपको लग रहा होगा कि ऐसा तो बस सर्कस में ही संभव है, लेकिन हम आपको बता दें कि यहां हम किसी सर्कस वाले स्कूटर के पेड़ पर चढ़ने की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि हकीकत में ऐसा स्कूटर मौजूद है, जो आसानी से पेड़ पर अपने साथ किसी को भी बैठा कर मिनटों में चढ़ने में सक्षम है.

30 सेकेंड में झट से पेड़ पर चढ़ने वाला स्कूटर (Quickly tree climb scooter in 30 seconds)

दरअसल, इस अजूबा अविष्कार को देश के एक किसान भाई ने किया है. कर्नाटक के मंगलुरू के रहने वाले किसान गणपति भट्ट ने एक ऐसा स्कूटर बनाया है, जो मात्र 30 सेकेंड में ही लंबे-लंबे पेड़ की ऊंचाईयों पर आसानी से चढ़ जाता है. इस स्कूटर का नाम उन्होंने ‘ट्री स्कूटर’ (Tree Scooter) रखा है.

ये भी पढ़ें- मार्च के मुख्य कृषि कार्य, जिन्हें पूरा करना है किसानों के लिए जरूरी

गणपति भट्ट ने कैसे किया ये अविष्कार(How did Ganpati Bhatt make this invention?)

50 वर्षीय किसान गणपति भट्ट सुपारी की खेती करते हैं. ऐसे में उन्हें अपनी फसल तक पहुंचने के लिए नियमित रूप से 60 से 70 फुट ऊंचे पेड़ों पर चढ़ना पड़ता था. जिसमें उन्हें काफी वक्त भी लगता था और कड़ी मेहनत भी करनी पड़ती थी. यही वजह है कि उन्होंने एक ऐसी स्कूटर निजात कर ली, जो उन्हें पेड़ की ऊंचाई पर ना सिर्फ मिनटों में बल्कि सेकेंड़ों में पहुंचा देता है.

इस स्कूटर के आने के बाद गणपति भट्ट घंटों की मेहनत कुछ ही मिनटों में पूरा कर लेते हैं. भट्ट का कहना है कि इसे बनाने का आइडिया उन्हें अपनी बढ़ती उम्र और महंगे मजदूरों की वजह से आया है.

‘Tree Scooter' की खासियत(Features of 'Tree Scooter')

  • इस स्कूटर में एक छोटी मोटर, एक सीट और दो पहिए लगे हुए हैं.
  • इस स्कूटर के हैंडल से एक सीट बेल्ट जुड़ी है जिसकी मदद से कोई भी बैठ कर पेड़ की ऊचाईयों पर आसानी से चढ़ सकता हैं.
  • बारिश के दिनों में भी ये स्कूटर बखूबी अपना काम करता है यानी इसे पेड़ों के चिकने और फिसले होने से भी फर्क नहीं पड़ता है.

40 लाख रुपये में तैयार हुआ ये स्कूटर(This scooter was ready for 40 lakh rupees)

इस अनोखे स्कूटर को किसान गणपति भट्ट ने अपने घर पर ही बनाया है. गणपति भट्ट ने इस स्कूटर को बनाने की शुरुआत साल 2014 में की थी, जिसके 4 साल बाद ये स्कूटर बन कर तैयार हुआ है. अगर लागत की बात करें, तो स्कूटर बनाने में करीब 40 लाख रुपये तक गणपति भट्ट ने खर्च किए हैं. फिलहाल स्कूटर की कीमत करीब 62 हजार रुपये है. अभी तक 300 से ज्यादा ऐसे स्कूटरों की बिक्री हो चुकी है.

English Summary: Know about the scooter that climbs the tree in seconds? very important for farmers Published on: 25 March 2022, 05:45 PM IST

Like this article?

Hey! I am अनामिका प्रीतम . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News