News

आज नहीं संभले तो कल, खून के आंसू रोओगे! गंगा तक मैली कर डाली, अब पाप कहां पर धोओगे: भारतीय कृषक दल

भारतीय कृषक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरोज दीक्षित ने आज उत्तर प्रदेश के जनपद हरदोई में स्थित कलेक्ट्रेट परिसर में खुले मैदान में प्रेस वार्ता में कहा, कि भारत की जनता अपने प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रिय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी से जवाब मांग रही कि जब भारत के प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में ही गंगा निर्मल नहीं तो पूरे देश में बह रही मां गंगा व सहायक नदियां कैसे निर्मल-अविरल- होंगी। दीक्षित ने कहा उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जनपद के संगम तट पर इस वर्ष होने वाले शाही कुंभ स्नान का पर्व निकट आ रहा है

लेकिन पतित पावनी मां गंगा अभी तक अविरल-निर्मल नहीं हो सकी और ना ही उसके लिए कोई ठोस रणनीति अमल में लाई गई है केवल मौखिक घोषणाएं, कोरी बयानबाजी ही की जा रही है। संत समाज को भी निर्मल- अविरल गंगा के नाम पर सरकार धोखा दे रही है करोड़ों किसानों मजदूरों की आस्था का प्रतीक मां गंगा है उनकी आस्था पर भी चोट पहुंचाई जा रही है जो सर्वथा अनुचित है। दीक्षित ने बताया कि इलाहाबाद कुंभ स्नान को लेकर भारतीय कृषक दल के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश से भी मिले निर्मल गंगा हेतु अनुरोध किया लेकिन कोई ठोस रणनीति न बनती देख भारत के राष्ट्रपति को राष्ट्रपति भवन जाकर प्रतिनिधिमंडल के साथ अपनी बात इलाहाबाद कुंभ स्नान से पूर्व गंगा को निर्मल करने को लेकर रखी जिस पर राष्ट्रपति सचिवालय ने जल संसाधन राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के सुझाव पर उत्तर प्रदेश सरकार को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ जी ने पतित पावनी मां गंगा को प्रदूषण मुक्त निर्मल गंगा देने का वायदा देशवासियों, पत्रकारों के समक्ष किया था लेकिन आज तक गंगा व सहायक नदियों को निर्मल नहीं बनाया जा सका उल्टे गंगा विलुप्त होने की कगार पर पहुँचती जा रही हैं। इतनी भयंकर मात्रा में कंपनियो, फैक्ट्रियों मिलों के गंदे नालों का दूषित पानी गंगा व उसकी सहायक नदियों में गिराया जा रहा है जिससे जो लोग गंगा स्नान करने को आते हैं वो आचमन तक करने में झिझकते है जब कि सरकारें गंगा के निर्मल करने को लेकर करोड़ों रुपए खर्च कर रही है।

 "क्या यही है मां गंगा को जीवित प्राणी का दर्जा "

जरा सा भी प्रेम मांगंगा के प्रति सरकार को है तो अब तक अविरल धारा निर्मल गंगा के नाम पर   खर्च की गई धनराशिकी कमेटी बनाकर जांच कराएं ताकिभ्रष्ट नेताओं, अधिकारियों का पर्दाफाश हो सके!  प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोहम्मद इसरारअली, पेंशन एसोसिएशन के अध्यक्ष बुद्धिसागर शुक्ला, सरवेश पांडेय ,सोनेलाल अवस्थी जिला संयोजक मोहन सिंह अनार कली आदि लोग उपस्थित रहे।



English Summary: If not today, tomorrow, blood tears will cry! Drained to the Ganges, where will the sin be washed on now: Indian farming party

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in