News

भारत एवं कनाडा के मध्य दाल उद्दोग के अवसरों पर हुई चर्चा

ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन के पदाधिकारियों एवं कनाडा वाणिज्य दूतावास व्यापार टीम के कंसुल जनरल जार्डन रीव्स के मध्य इंदौर के रेडिसन ब्लू में दाल प्रसंस्करण के विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई। इस दौरान रिव्स ने बताया कि कनाडा में बड़े स्तर पर मटर एवं मसूर का उत्पादन हो रहा है, जिसके फलस्वरूप विभिन्न देशों में इसकी आपूर्ति की जा रही है। भारत में कनाडा के उत्पादन का 25 प्रतिशत से अधिक मटर व मसूर का विक्रय किया है, पहले कनाडा में बारीक मटर व मसूर की खेती अधिक होती थी लेकिन अब मोटी मटर व मसूर का उत्पादन अधिक होता है।

कनाडा एवं भारत सरकार के दोनों के प्रतिनिधि मंडल में चर्चा हुई कि कनाडा में उत्पादन की समस्त जानकारी आधुनिक खेती की भारत के किसानों को समस्त जानकारी देने के लिए कनाडा सरकार भी प्रयास करेगी तथा ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन भी समय-समय पर भारत में उत्पादन की जानकारी कनाडा के किसानों को उपलब्ध कराए। कनाडा में खेती के बहुत अवसर हैं। कनाडा सरकार किसानों को 30 एकड़ जमीन लीज़ पर दे सकती है। भारतीय किसानों को कनाडा आकर आधुनिक खेती में हिस्सा लेने का आग्रह किया गया।

भारत में मटर एवं मसूर की आपूर्ति में कनाडा सरकार नियमों का सरलीकरण भी कर रही है। जिससे कि भारत में दलहन अधिक से अधिक मात्रा में भेज सके। दोनों ही प्रतिनिधि मंडलों के मध्य दलहन के प्रसंस्करण पर चर्चा के साथ-साथ कंसुलेट टीम के द्वारा ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन के माध्यम से हाल ही में दाल उद्दोगों में हाल ही में आए नीतिगत परिवर्तनों की सराहना करते हुए दाल उद्दोगों एवं कनाडा में इस उद्दोग के अवसरों पर विस्तार से चर्चा की गयी।



Share your comments