News

कब तक भांजी जाएंगी किसानों पर लाठी !

एक बात तो अपने देश में आम हो चुकी है कि किसान या आम आदमी अपने हक़ के लिए धरना करते हैं तो उनपर पुलिस लाठियां बरसा देती है. ऐसा ही फिर एक बार उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में देखने को मिला है, जहाँ पर किसान गन्ना भुगतान की मांग को लेकर धरना कर रहे थे. इन किसानों पर यूपी पुलिस ने जमकर कहर बरपाया. गन्ने भुगतान की मांग को लेकर आजाद किसान यूनियन के बैनर तले किसान कलेक्ट्रेट पहुंचे थे. यही किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने डीएम ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया. इसी दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया. जिसके चलते पुलिस ने पहले प्रदर्शनकारियों पर पानी की बौछार की उसके बाद जमकर लाठियां भांजी.

आजाद किसान युनियन के लीडर का कहना है कि 3 चीनी मिलों ने अभी तक किसानों के करोड़ों रूपयों का भुगतान नहीं किया है.  अब जिला प्रशासन किसान पर लाठी चला कर अन्नदाता की आवाज को दबाना चाहता है. यदि जल्द ही गन्ना किसानों को भुगतान नहीं किया जाता तो किसान नई रणनीति के तहत आंदोलन करेंगे.

जिले के डीएम अटल कुमार राय का कहना है कि किसान ऑफिस के सामने आत्महत्या करने का प्रयास कर रहे थे जिसके चलते उन्हें रोकने के लिए जिला प्रशासन लाठी चार्ज करने को मजबूर हुआ. उन्होंने आगे कहा की धरने के दौरान आत्मदाह करने का अधिकार क़ानून नहीं देता. इसके लिए प्रसाशन ने पहले हल्के पानी के बौछार का प्रयोग किया.  उन्होंने कहा की जल्द ही इन किसानों का बकाए का भुगतान कर दिया जाएगा.

प्रभाकर मिश्र, कृषि जागरण



Share your comments