1. ख़बरें

राज्य सरकार ने किसानों के लिए जारी किया 5000 ट्यूबवेल कनेक्शन

हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों कि सिंचाई की परेशानी को दूर करने के लिए किसानों को 5000 ट्यूबवेल देने का ऐलान कीया है. किसानों को इसकी जानकारी किसान ट्यूबवेल स्किम के नाम से मिलेगी. इस योजना का लाभ किसानों को 15 जून तक मिल सकता है. देश में इन दिनों खेती में खरीफ फसल की बुवाई की प्रक्रिया चल रही है. कुछ किसान बुवाई कर चुके हैं, कुछ कर रहे हैं और कुछ आगे करने वाले हैं. सभी किसान इन चीज़ों से वाकिफ हैं कि खरीफ खरीफ फसलों की बुवाई में सबसे अधिक पानी की आवश्कता होती है.

किसानों को धान की अच्छी पैदावार हो सके और खेती से लाभ प्राप्त कर सकें इसलिए उन्हें सिंचाई की सुविधा मुहैया कराई जाती है. वहीं पानी को आपूर्ती को पूरा करने के लिए बोरवेल, नलकूप, नहर इन सब का उपयोग करके भी खेती की जाती है. लेकिन, कुछ किसान ऐसे भी होते हैं जिनके पास अपना ट्यूवेल भी नहीं है. ऐसे में उन किसानों को फसल में पानी देने के लिए दूसरों से ट्यूबवेल के पानी का सहारा लेना पड़ता है.

किसानों की इस समस्या को दूर करने के लिए हरियाणा सरकार ने किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन देने का प्रावधान करने जा रही है. धान की खेती के लिए हरियाणा का नाम आगे है जिसे देखते हुए यहां मुख्यमंत्री ने किसानों को 5000 ट्यूबवेल देने का ऐलान किया है. हरियाणा में अधिक किसान धान के फसलों का उत्पादन करते हैं औऱ ऐसे में जिनके पास सिंचाई के लिए ट्यूबवेल नहीं है उनको इस योजना से काफी मदद मिलेगी. इस योजना से किसानों के फसलों का उत्पादन क्षमता भी बढ़ेगा. राज्य के किसानों ने फरवरी महीने में ही इसके लिए लगने वाली 8200 रूपये कि रशी को भर दिया था. जिसके बाद अब किसान मांग कर रहे हैं कि उन्हें इसका लाभ जल्द दिया जाए.

सरकार द्वारा किये गए घोषणा से किसान खुश हैं और उनको लगता है कि इससे सिंचाई में उनको काफी सुविधा होगी. सरकार द्वारा किए गए ऐलान के बाद यह उम्मीद किया जा रहा है कि किसानों को इसका लाभ 15 जून तक मिल जाएगा. वहीं हरियाणा के जल मंत्री और बिजली मंत्री ने बताया की राज्य में कुल 9039 किसानों ने ट्यूबवेल के लिए आवेदन किया है और इनमें से 1063 किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन दिया भी जा चुका है.इस योजना का मुख्य उद्देश्य खरीफ फसल की खेती करने वाले किसानों को मुख्य रूप से सिंचाई की सुविधा मुहैय्या करवाना है. किसानों को बिजली कनेक्शन की परेशानी को दूर करते हुए लाभ देने की योजना बनाई गयी है.

ये खबर भी पढ़े: खरीफ फसल की एमएसपी बढ़ाने की तैयारी; 2.9% तक बढ़ सकती है धान की कीमत, मक्का-बाजरा देंगे मुनाफा

English Summary: Haryana government is providing 5000 tubewells to farmers under the scheme.

Like this article?

Hey! I am आदित्य शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News