सरकार ने 2017-18 रिकॉर्ड फसल उत्पादन का टारगेट रखा

नई दिल्लीः सरकार ने बेहतर मानसून की उम्मीद को देखते हुए जुलाई से शुरू होने वाले नए फसल वर्ष 2017-18 में रिकार्ड 27.3 करोड़ टन खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य रखा है। वहीं मौजूदा फसल वर्ष (जुलाई 2016 से जून 2017) के दौरान खाद्यान्न उत्पादन 27.19 करोड़ टन के रिकार्ड स्तर पर पहुंचने का अनुमान लगाया गया है। कृषि मंत्रालय ने खाद्यान्न उत्पादन का दूसरा अनुमान आज जारी किया।

कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने यहां एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘अगले साल के लिए सरकार ने रिकार्ड 27.3 करोड़ टन के खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य रखा है।’’ सिंह आज यहां आगामी खरीफ मौसम की बुवाई रणनीति के बारे में आयोजित राष्ट्रीय कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि इस साल भी मानसून सामान्य रहने की उम्मीद है। यह वांछित लक्ष्य को हासिल करने में मदद करेगा। कृषि मंत्रालय के अनुसार आगामी खरीफ मौसम के लिए बीजों की पर्याप्त आपूर्ति है। उदाहरण के तौर पर 83.46 लाख क्विंटल धान के बीज और 3.75 लाख क्विंटल तुअर दाल के बीज की मात्रा उपलब्ध है। मंत्रालय के अनुसार इस बुवाई मौसम में 2.90 करोड़ टन उवर्रक की जरूरत का आकलन है।

सिंह ने कहा कि आगामी खरीफ मौसम में बुवाई कार्य सुनियोजित तरीके से सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकारों को किसानों के लिए अच्छी गुणवत्ता के विभिन्न प्रकार के बीज और उर्वरकों की खरीद करने की योजना बनानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही राज्य सरकारों को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि फसली मौसम के दौरान विभिन्न जरूरत के सामान की कमी ना हो। सिंह ने कहा कि राज्य सरकारों को सभी योजनाओं के आसान और समयबद्ध अनुपालन के लिए प्रयास करना चाहिए जैसे कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना इत्यादि ताकि किसानों को काम की शुरूआत के समय ही धन उपलब्ध हो सके।

Comments