News

Farmers Protest: अब किसानों ने क्या पकड़ी ज़िद, सरकार और पुलिस के क्या है इंतेज़ाम?

Farmer

Farmer

दिल्ली मार्च के लिए निकले किसानों के आगे आखिरकार सरकार को झुकना ही पड़ा. जो पुलिस कल तक सिंधु और टिकरी बॉर्डर पर किसानों के साथ हिंसक झड़प करने पर उतारू थी, अब उन्हें दिल्ली आने की अनुमती दे दी गयी है. जी हांकिसानों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन के लिए उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी स्थित निरंकारी मैदान में आने की अनुमति मिल चुकी है. किसानों के राजधानी आने की खबर मिलते ही दिल्ली सरकार उनके स्वागत और सत्कार में लग गई है. फिलहाल किसानों के रहने खानेपीने और दवाई का बंदोबस्त दिल्ली सरकार ने अपने खर्चे पर करने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यहां किसानों के लिए शुद्ध पेयजल, साफ-सफाईमोबाइल टॉयलेट और जलावन की व्यवस्था करवाई है.

क्या है किसानों की अगली योजना?

किसानों ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वो हर हाल में दिल्ली के रामलीला मैदान में जाएंगेंलेकिन फिलहाल कुछ समय के लिए बुराड़ी में रुककर ही हरियाणा में फंसे किसानों का इतेंजार किया जाएगा.

कई कॉलेजों की परीक्षाएं रद्द

किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर के कई कॉलेजों में परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया हैजिससे बाहर से आने वाले छात्रों की मुश्किलें बढ़ गई है. फिलहाल छात्रों को समझ नहीं आ रहा कि परिक्षाओं के लिए दिल्ली में रुका जाए या नहींक्योंकि कॉलेज की तरफ से परीक्षाओं की अगली तारीख क्या होगीकुछ नहीं बताया गया है.

kisan

kisan

आंदोलन को देखते हुए प्रशासन ने किए विशेष प्रबंध

किसान आंदोलन को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी की सीमाओं पर कई विशेष बदलाव किए गए हैं. यातायात मार्गों को बदलते हुए वाहनों की भारी तलाशी ली जा रही है. वहीं किसी तरह के गड़बड़ी को रोकने के लिए सीआईएसएफ के जवानों को तैनात किया गया है. रिंग रोडमुकरबा चौकजीटीके रोडएनएच- 44 और सिंधु बॉर्डर पर सबसे ज्यादा भीड़ है. पुलिस इन रास्तों पर न जाने की सलाह दे रही है.

दिल्ली की शांति व्यवस्था के लिए पुलिस मुस्तैद

किसान आंदोलन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने कहा है कि हम राजधानी में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद हैं, किसी भी तरह की अराजकता फैलाने पर कड़ी कार्रवाई होगी. पुलिस ने कहा कि वो आशा करती है कि राजधानी में शांति बनाए रखने में किसान संगठन उनका सहयोग करेंगें.



English Summary: government allow farmers to come in delhi and protest know more updates about farmer bill protest

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in