News

किसानों को धान के बीज पर मिल रहा है 50 प्रतिशत सब्सिडी

फसलों की उत्पादकता बढ़ाने के साथ कम लागत में खेती करने के लिए केंद्र व राज्य सरकार सभी किसानों को हर साल अनुदान पर बीज मुहैया करता हैं. किसान भी सरकारी बीजों की गुणवत्ता पर भरोसा करते हैं. और जमकर उसकी खरीदारी करते है. सब्सिडी यदि अधिक हो तो किसानों का रुझान सरकारी बीज की तरफ कुछ ज्यादा ही बढ़ जाता है. इसी कड़ी में जायद के सीजन में धान की खेती करने के लिए उत्तराखंड सरकार की ओर से धान  की बीज पर 50 प्रतिशत सब्सिडी दी जा रही है.

दरअसल उत्तराखंड कृषि विभाग किसानों की सुविधा के लिए धान के बीज पर 50 प्रतिशत सब्सिडी देगा। ऊधम सिंह नगर जिले की सभी 27 न्याय पंचायतों के साथ ही 35 सहकारी समितियों से किसान छूट पर धान का बीज खरीद सकते हैं।  मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक मुख्य कृषि अधिकारी डॉ. अभय सक्सेना ने बताया कि किसानों को धान की विभिन्न किस्मों (पीआर-121, पीआर-123, पंत धान-26, एचकेआर -46, पीआर-113) के  गुणवत्तायुक्त बीज उपलब्ध कराए जा रहे हैं. खुले बाजार में धान की पीआर-121, पीआर-123, पंत धान-26 किस्मों का भाव 3800 रुपये प्रति क्विंटल है। सब्सिडी के बाद किसानों को इसका बीज 1900 रुपये प्रति क्विंटल की दर से मिलेगा।  जबकि एचकेआर-46, पीआर -113 के बीज का मूल्य प्रति क्विंटल 1000 रुपये की दर से उपलब्ध हैं। किसानों को शीघ्र ही जिले की न्याय पंचायतों पर भी बीज उपलब्ध हो जाएंगे। इसके साथ ही जिले की 35 सहकारी समितियों से भी किसान सब्सिडीयुक्त धान का बीज खरीद सकते हैं।

गेहूं की 11 प्रजातियों के बीज पर भी सब्सिडी

धान के साथ ही गेहूं के बीज भी सहकारी समितियों के पास बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। गेहूं का बीज 50 प्रतिशत अनुदान के बाद 1600 रुपये प्रति क्विंटल की दर से बिकेगा। गेहूं की प्रजातियों में पीबीडब्लू-154, पीबीडब्लू--343, पीबीडब्लू -502, पीबीडब्लू-550, गेहूं यूपी-2554, गेहूं यूपी-2628, एचडी-2967, एचडी-3086, यूपी-262, पीबीडब्लू-644, डीबीडब्लू-17.



English Summary: goverment given farmer 50% subsidy on paddy seed

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in