आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. ख़बरें

खुशखबरी ! MSP पर धान की खरीद हुई शुरू, केंद्र सरकार ने जारी किया आंकड़े

Paddy

Paddy

नए कृषि कानूनों (New Farm Acts) के खिलाफ किसानों और राजनीतिक दलों के विरोध (Farmers' Protest) के बीच मोदी सरकार (Modi Government) ने सोमवार को धान (Paddy) की न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीद के आंकड़े जारी किए हैं. आंकड़ों के मुताबिक, सिर्फ 48 घंटे में 10.53 करोड़ रुपए के धान की MSP पर खरीद की गई है.

किसान कर रहे विरोध

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पंजाब (Punjab), हरियाणा (Haryana) समेत कई राज्यों में किसान नए कृषि कानूनों का जमकर विरोध कर रहे हैं. उनका कृषि बिल को लेकर मानना है कि इससे खरीद का पूरा काम कंपनियों के हवाले कर दिया जाएगा और MSP व्यवस्था खत्म हो जाएगी.

धान की खरीद हुई शुरू

केंद्र सरकार की तरफ से बताया गया है कि धान के साथ ही इस साल दाल (Pulses) और तिलहन (Oil Seeds) की MSP पर खरीद की पूरी व्यवस्था हो चुकी है. कृषि मंत्रालय ने कहा कि हरियाणा और पंजाब के किसानों से 27 सितंबर तक 1,868 रुपए प्रति क्विंटल एमएसपी पर 5,637 टन धान की खरीद की गई है. वहीं, बाकी राज्यों में आज से धान की खरीद शुरू हो गई है. मंत्रालय ने कहा है कि हरियाणा और पंजाब के 390 किसानों से 10.53 करोड़ रुपए का धान सिर्फ 48 घंटे में खरीदा गया है. धान खरीद का काम 26 सितंबर से शुरू हो चुका है. यह खरीद विपणन सत्र 2020-21 के तहत की जा रही है.

1 अक्टू्बर से शुरू हो जाएगी कपास की सरकारी खरीद

मंत्रालय के मुताबिक, वर्ष 2020-21 के सत्र के लिए कपास (Cotton) की खरीद 1 अक्टूबर से शुरू होगी. खाद्य मंत्रालय ने कहा कि MSP पर धान की खरीद सोमवार से शेष राज्यों में भी शुरू हो गई है. भारतीय खाद्य निगम (FCI) और राज्यों की खरीद एजेंसियों को किसानों से परेशानी मुक्त खरीद करने और उन्हें MSP भुगतान सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है. राज्य सरकारों से कहा गया है कि वे किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य हासिल करने के लिए जागरूक करें.

English Summary: Good News ! Paddy procurement started on MSP, Central government released data

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News