News

पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भाजपा में हुए शामिल, दिल्ली से लड़ सकते हैं चुनाव !

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर राजनीतिक पार्टियों में बड़ी फेरबदल हो रही है . कई राजनेता अपनी पार्टी को छोड़कर दूसरी पार्टी में शामिल हो रहे है तो, कई राजनीतिक पार्टियां अपनी पार्टी के पुराने प्रत्याशियों पर विश्वास न जताकर नए चेहरे पर विश्वास जताकर टिकट दे रही है .तो वही कई नए चेहरे इस लोकसभा के चुनाव में मैदान में उतर रहे है और अपनी राजनैतिक करियर की शुरुआत करने जा रहे है . इसी कड़ी में पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भी आज भाजपा में शामिल हो गए और वो आज से अपनी राजनैतिक करियर की शुरुआत करने जा रहे हैं.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से गौतम गंभीर के भाजपा में शामिल होने को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी. लेकिन आज दिल्ली में हुए भाजपा के एक कार्यक्रम में उन्हें भाजपा में शामिल कर लिया गया. इस मौके पर भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली और रविशंकर प्रसाद मौजूद थे. बता दे कि इस मौके पर पूर्व क्रिकेटर गंभीर ने कहा कि 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विज़न से प्रभावित होकर वो बीजेपी में शामिल हुए हैं.'

गौतम गंभीर ने कहा कि, ''मैं बीजेपी में शामिल हो गया हूं. मुझे भरोसा है कि मैं पार्टी की उम्मीदों पर खरा उतरूंगा. पीएम के विजन से प्रभावित होकर बीजेपी में शामिल हुआ. देश के कुछ करने का मौका देने के लिए पार्टी का शुक्रिया''. बता दे कि पिछले साल गौतम गंभीर ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. वो एक ऐसे क्रिकेटर है जो अपनी बेबाक राय के लिए जाने जाते हैं. खास कर देश में आतंकवाद के खिलाफ गंभीर ने अपना स्टैंड क्लियर करते हुए हमेशा अपनी राय रखी है. उन्होंने सेना को आर्थिक मदद करने के लिए कई बार आगे हाथ बढ़ाया है.

आपलोगों  के जानकारी के लिए बता दे कि गौतम गंभीर ने क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद राजनीति में आने से मना कर दिया था. उन्होंने कहा था, ‘इस तरह की अटकलें हैं जो मैंने भी सुनी हैं, ऐसा संभवत: इसलिए है कि मैं सामाजिक मुद्दे भी उठाता हूं. मेरे लिए ट्विटर हमेशा ऐसा मंच रहा है जो काफी महत्वपूर्ण है और जहां मैं सामाजिक मुद्दे उठा सकता हूं.’

लेकिन अब उनके भाजपा में शामिल हो जाने के बाद ये कयास लगाया जा रहा है कि वो दिल्ली से चुनाव लड़ सकते हैं. पिछले साल गंभीर ने प्रदूषण के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना भी साधा था. उन्होंने ट्विटर पर लिखा था कि 'आपके झूठे वादों के कारण हमारी पीढ़ियां धुएं में जीने को मजबूर है.



Share your comments