MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

बड़ी खबर! किसानों को 25% मुआवजे के साथ मिलेगी 25,000 रुपये की आर्थिक मदद

किसानों की सहायता करने के लिए कई ऐसी योजनाएं और घोषणाओं का ऐलान किया जाता है, जिससे उनको राशि या मुआवजा मिल सके. इसी के चलते मध्य प्रदेश सरकार ने भी अपनी किसानों के लिए फसल नुकसान पर मुआवजा देने की बात कही है. किसानों को उनके फसलों के नुकसान के लिए तत्काल 25 प्रतिशत मुआवजा राशि प्रदान करेगी.

रुक्मणी चौरसिया

किसानों के लिए उनकी फसलें ही सब कुछ होती हैं. यदि वो खराब हो जाएं, तो उन्हें भारी नुकसान झेलना पड़ता है, लेकिन अब ऐसा नहीं है किसानों की सहायता करने के लिए कई ऐसी योजनाएं और घोषणाओं का ऐलान किया जाता है, जिससे उनको राशि या मुआवजा मिल सके. इसी के चलते मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh) ने भी अपनी किसानों के लिए फसल नुकसान पर मुआवजा (Compensation for crop loss) देने की बात कही है.

किसानों को मिलेगा मुआवजा (Farmers will get compensation) 

दरअसल, मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल (Madhya Pradesh Agriculture Minister Kamal Patel) ने 10 जनवरी को कहा कि राज्य सरकार ने अधिकारियों को बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित गांवों का सर्वेक्षण करने के लिए कहा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को उनके फसलों के नुकसान के लिए तत्काल 25 प्रतिशत मुआवजा राशि प्रदान करेगी.

बता दें कि लगातार बारिश और ओलावृष्टि से खड़ी फसलों को बेहद नुकसान पहुंचा है. अधिकारियों को प्रभावित गांवों का सर्वेक्षण करने को कहा गया है. मुआवजे की राशि का 25 प्रतिशत तुरंत भुगतान किया जाएगा.

मिलेगी 25 हज़ार रुपये की आर्थिक मदद (Will get financial help of 25 thousand rupees)

इसी के चलते मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि हाल ही में हुई ओलावृष्टि में 50 प्रतिशत फसल बर्बाद करने वाले किसानों को उनकी बेटियों की शादी के लिए राज्य सरकार 25 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देगी. साथ ही सरकार अगले साल किसानों को ऋण प्राप्त करने की सुविधा भी देगी.

किसानों को मिलेंगे 1 रुपये में खाद्यान्न (Farmers will get food grains for Re 1)

इसके अलावा किसानों की मदद के लिए भी एक ऐलान किया गया है. जी हां, जिन किसानों को 100 प्रतिशत फसल का नुकसान हुआ है, उन्हें एक रुपये प्रति किलोग्राम की दर से खाद्यान्न दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला कलेक्टर को ओला प्रभावित किसानों का जल्द से जल्द सर्वे करने को कहा गया है. पिछले सप्ताह ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश के दौरान ग्वालियर-चंबल संभाग और पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में फसल के नुकसान की खबरें थीं.

यह भी पढ़ें: फसल बीमा योजना के बिना भी किसानों को खेती बर्बाद होने पर मिलती है बैंक से राहत, बस करना होगा ये काम ऐप पर पढ़ें

उन्होंने आश्वासन दिया कि ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश ने किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाया है. क्षतिग्रस्त फसलों का आकलन शीघ्र किया जाएगा और किसानों को जल्द से जल्द राहत मुहैया कराई जाएगी. चौहान ने कहा कि आकलन के बाद दो तरह से फसल नुकसान की भरपाई की जाएगी.

किसानों को कैसे मिलेगा फसल बर्बाद होने पर मुआवजा (How will farmers get compensation for crop loss)

बता दें कि जिन किसानों के पास फसल बीमा कवर है, उन्हें प्रारंभिक मूल्यांकन के बाद 25 प्रतिशत राशि प्रदान की जाएगी और पूरी राशि बाद में प्रदान की जाएगी.  दूसरी तरफ, जिन किसानों ने बीमा कवर नहीं लिया है, उनके लिए फसलों के नुकसान की भरपाई राज्य द्वारा की जाएगी.

English Summary: Farmers will get 25 percent compensation immediately on crop loss Published on: 12 January 2022, 12:05 PM IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News