News

बंजर भूमि पर किसान कर रहे हैं फूलों की खेती

मध्य प्रदेश के भिंड में किसान अपनी बंजर भूमि पर फूलों की उन्नत खेती शुरू कर चुके है. इससे किसानों की जिंदगी काफी बदल गई है. दरअसल यहां के किसान राज गोपाल कुशवाहा को इस तरह की खेती करके काफी अच्छा मुनाफा होने लगा है. उन्होंने अजीविका मिशन के सहयोग से बनाए गए भगवान स्व शंकर सहायता समूह से 8 हजार रूपये का कर्ज लेकर खेती करना शुरू किया गया है. इससे उनको अच्छा मुनाफा हुआ है. किसान महज 3 बीघा जमीन में प्रतिदिन सौ किलो फूल खेत से निकाल रहे हैं. इस तरह फूलों से 5 लाख रूपए तक का मुनाफा हो रहा है. इस तरह के कर्ज के रूपये से उन्होंने न केवल कर्ज को चुका दिया है बल्कि इसके सहारे घर में संपन्नता भी आने लगी है. किसान अजीविका मिशन के तहत यहां पर खेती कर रहे है.

मौसम के अनुसार खेती

किसान रामगोपाल कुशवाह बताते हैं कि उन्होंने परंपरागत खेती छोड़कर फूलो की खेती करने की योजना बनाई है. उन्होंने कहा कि पूंजी की कमी के चलते उन्होंने समूह में कर्जा लेकर फूलों की खेती को शुरू किया है. उन्होंने बताया कि मौसम के हिसाब से पूरे साल अलग-अलग किस्म के पौधे लगाने का कार्य किया जाता है. इनमें मुख्य रूप से गुलाब, गलीटीया, गेंदा, मगरिट आदि का भी काफी मात्रा में उत्पादन कर रहे है.

शादी के सीजन रहती है डिमांड

किसान रामगोपाल के मुताबिक फूलों की खेती की मांग वर्षभर बनी रहती है. दुकानदार भी रोज फूल माला खरीदते है. लेकिन जैसे ही विवाह का सीजन पास आ जाता है तो फूलों की डिमांड काफी ज्यादा बढ जाती है. इसके अलावा इससे मुनाफा भी अच्छा हो जाता है. दरअसल शादी के प्रोगाम में वरमाला के हार, स्टेज और गाड़ी पर फूलों की सजावट पर आसानी से सात से आठ हजार रूपए मिल जाता है. ऐसे में पूरे सीजन फूलों की खेती से अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है.



Share your comments