News

कहीं आप भी हरी सब्जियों के साथ हरे कीड़े तो नही खा रहे हैं...

अगर आप भी पालक साग या अन्य तरह की हरी साग-सब्जियों का सेवन करते हैं तो आपके लिए ये खबर बेहद ही अहम साबित हो सकती है। दरअसल इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके हवाले से दावा किया जा रहा है कि जो लोग हरी साग-सब्जियां खास कर पालक का सेवन कर रहे हैं, वो हरी सब्जियों के साथ हरे कीड़े भी खा रहे हैं।

वीडियो के हवाले से बताया जा रहा है कि पालक में उसी की तरह दिखने वाले हरे रंग का एक कीड़ा होता है, जो आंखों को धोखा दे देता है, और लोग पालक के साथ उस कीड़े को भी खा लेते हैं। वैसे तो ये वीडियो वायरल है, लेकिन ये बात बीलकुल सही है, क्योंकि साग-सब्जियां की कल्पना बिना बैक्टीरिया या कीड़े के की ही नहीं जा सकती है। 

नोट : किसान भाइयों कृषि क्षेत्र की सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पत्रिका कृषि जागरण को आप ऑनलाइन भी सब्सक्राइब कर सकतें है. सदस्यता लेने के लिए क्लिक करें...

ऐसे में ध्यान देने वाली बात यह है कि सब्जी या साग बनाने से पहले इसे अच्छी तरह से धो ले, चलिए आपको इस कीड़े के बारे में भी कुच बताते हैं। इस कीड़े का नाम है लीफमाइनर्स है. जानकारों के अनुसार इस कीड़े का घर और भोजन दोनों की पत्ते होते हैं, इसलिए इसे leaf insect और walking leaf के नाम से भी जाना जाता है। 

यह कीड़ा पालक और दूसरे साग में भी पाया जाता है। जानकारी के अनुसार ये कीड़ा भारत, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका में पाया जाता है, इस एक ही कीड़े के कई प्रजाति होते हैं, यह कीड़ा पत्तों के साथ-साथ पेड़ों के तनों में भी रहता है, जो वातावरण के हिसाब से अपना रंग-रुप बदल सकता है। 



English Summary: Either you are not eating green worms with green vegetables ...

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in