News

बाजारों में अक्तूबर से मिलेगी प्लास्टिक के जगह पर बांस से बनी बोतल

bamboo bottle

इस भागदौड़ भरी ज़िंदगी में प्लास्टिक हमारे जीवन का एक तरह से अभिन्न हिस्सा बन गया है. लोग जल्दी – जल्दी के चक्कर में खाद्य सामग्री या सब्जी सबकुछ प्लास्टिक की पॉलिथीन में ही लेना पसंद करते है. जोकि सही नहीं हैं. इसकी वजह से हमें कई तरह की जनलेवा समस्या होता है. इस बात की पुष्टि शोध के द्वारा की गयी है. प्लास्टिक का इस्तेमाल मानव शरीर ही नहीं बल्कि जानवारों के लिए भी बहुत नुकसानदेह है.क्योंकि इसके उपयोग से पर्यावरण तो ख़राब हो ही रहा है इसके साथ ही कई प्रकार की बीमारियां भी पनप रही है.

bamboo

उक्त विंदुओं के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छता अभियान के अंतर्गत सिंगल यूज प्लास्टिक उत्पादों पर 2 अक्टूबर से इस्तेमाल में न लाने की अपील किए है. इसके साथ ही पीएम मोदी के इस कदम को बढ़ावा देने के लिए एमएसएमई मंत्रालय के तहत कार्य करने वाली खादी ग्रामोउद्योग ने बांस से बनी बोतल मार्केट में लॉन्च करने का फैसला लिया है. जिसे जल्द ही देश के बाजारों में देखा जा सकता है. मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार, एमएसएमई मंत्रालय ने बांस से बनी इस बोतल को अक्टूबर माह में लांच करने का फैसला किया है. जो कि हमारे पर्यावरण को अनुकूल रखने के साथ ही हमारी सेहत के लिए काफी लाभदायक साबित होंगी. अगर बात करें  इस बोतल की खासियत कि तो इस बांस से बनी बोतल की कैपेसिटी करीब 750 एमएल पानी की होगी और इसकी कीमत 300 रुपए से शुरू होकर 900 रुपये के बीच होगी.  

यह बोतल सस्ती के साथ -साथ टिकाऊ भी होगी. जोकि काफी समय तक चलेगी. यह इको -फ्रेंडली भी है जिसे हम आसानी से नष्ट भी कर सकते है. इससे हमारे पर्यावरण को भी किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा. यह देश को नयी राह पर ले जाने के लिए यह एक अच्छा कदम साबित होगा. इससे हम कुछ हद तक अपने पर्यावरण को सुरक्षित और स्वस्थ बना सकेंगे.  इस बोतल को सेंट्रल एमएसएमई मिनिस्टर नितिन गडकरी 1 अक्टूबर को लांच करेंगे. लांच करने के एक दिन बाद ही इसकी खरीद आप आसानी से खादी स्टोर से कर सकते है.



English Summary: Bamboo bottle will be seen in the country's markets coming soon

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in