पशुओं को संतुलित दाना मिश्रण खिलाने से बढेगा दूध उत्पादन

पशुपालन आज के समय में किसानों के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो रहा है. सरकार भी पशुप्पालन को बढ़ावा दे रही है . यदि कोई भी किसान पशुपालन शुरू करता है सबसे पहले उसके लिए पशुओं का खाना चिंता का विषय होता है. क्योंकि एक पशु को यदि संतुलित  खाना नहीं मिलेगा तो पशु कम दूध देना शुरू कर देगा. पशुपालन में पशुओं के खाने का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है. पहले से ही पशुओं को संतुलित मिश्रण दाना चारे के साथ खिलाते आए हैं. यह पशु के लिए संतुलित भोजन की तरह होता है. पशुओं के दाना मिश्रण में काम आने वाले पदार्थों का नाम जान लेना ही काफी नही है. 

करने के लिए काफी नही है. एक पशुपालक को इस से प्राप्त होने वाले पाचक तत्वों जैसे कच्ची प्रोटीन, कुल पाचकतत्व और चयापचयी उर्जा का भी ज्ञान होना आवश्यक है. तभी भोज्य में पाये जाने वाले तत्वों के आधार पर संतुलित दाना मिश्रण बनाने में सहसयता मिल सकेगी. नीचे लिखे गये किसी भी एक तरीके से यह दाना मिश्रण बनाया जा सकता है, परन्तु यह इस पर भी निर्भर करता है कि कौन सी चीज सस्ती व आसानी से उपलब्ध है.

मक्का/जौ/जर्इ      40 किलो मात्रा

बिनौले की खल      16 किलो

मूंगफली की खल     15 किलो

गेहूं की चोकर       25 किलो

मिनरल मिक्सर      02 किलो

साधारण नमक       01 किलो

कुल               100 किलो

जौ                30 किलो

सरसों की खल       25 किलो

बिनौले की खल      22 किलो

गेहूं की चोकर        20 किलो

मिनरल मिक्स       02 किलो

साधारण नमक       01 किलो

 कुल              100 किलो

मक्काया जौ        40 किलो मात्रा

मूंगफली की खल     20 किलो

दालों की चूरी        17 किलो

चावल की पालिश     20 किलो

मिनरल मिक्स       02 किलो

साधारण नमक       01 किलो

कुल              100 किलो

गेहूं32 किलो मात्रा

सरसों की खल       10 किलो

मूंगफली की खल     10 किलो

बिनौले की खल      10 किलो

दालों की चूरी        10 किलो

चौकर             25 किलो

मिनरल मिक्स       02 किलो

नमक             01 किलो

 कुल              100 किलो

गेहूं, जौया बाजरा     20 किलो मात्रा

बिनौले की खल       27 किलो

दाने या चने की चूरी   15 किलो

बिनौला             15 किलो

आटे की चोकर        20 किलो

मिनरल मिक्स        02 किलो

नमक              01 किलो

   कुल              100 किलो

ऊपर दिया गया कोर्इ भी संतुलित आहार भूसे के साथ सानी करके भी खिलाया जा सकता है. इसके साथ कम से कम 4-5 किलो हरा चारा देना आवश्यक है. ताकि गाय भैंस आसानी से इसको पचा सके.

दाना मिश्रण के गुण व लाभ

यह स्वादिष्ट व पौष्टिक है.

ज्यादापाचक है.

अकेलेखल, बिनौला या चने से यह सस्ता पड़ता हैं.

पशुओंका स्वास्थ्य ठीक रखता है.

बीमारीसे बचने की क्षमता प्रदान करता हैं.

दूधव घी में भी बढौतरी करता है.

भैंसब्यांत नहीं मारती.

भैंसअधिक समय तक दूध देते हैं.

कटडेया कटड़ियों को जल्द यौवन प्रदान करता है.

संतुलित दाना मिश्रण कितना खिलायें

शरीर की देखभाल के लिए:

 गाय के लिए 1.5 किलो प्रतिदिन व भैंस के लिए 2 किलो प्रतिदिन

दुधारू पशुओं के लिए:

गाय प्रत्येक 2.5 लीटर दूध के पीछे 1 किलो दाना

भैंस प्रत्येक 2 लीटर दूध के पीछे 1 किलो दाना

गाभिन गाय या भैंस के लिए:

6 महीने से ऊपर की गाभिन गाय या भैंस को 1 से 1.5 किलो दाना प्रतिदिन फालतू देना चाहिए.

बछड़े या बछड़ियों के लिए:

1 किलो से 2.5 किलो तक दाना प्रतिदिन उनकी उम्र या वजन के अनुसार देना चाहिए.

बैलों के लिए:

खेतों में काम करने वाले भैंसों के लिए 2 से 2.5 किलो प्रतिदिन

बिना काम करने वाले बैलों के लिए 1 किलो प्रतिदिन.

 

Comments