News

बिहार और झारखण्ड के कृषि मंत्री एक दूसरे से रूबरू..

माननीय कृषि मंत्री डॉ० प्रेम कुमार विभागीय पदाधिकारियों के साथ आज से झारखण्ड राज्य में कृषि विभाग द्वारा योजनाओं के क्रियान्वयन तथा किसानों को अनुदान उपलब्ध कराने की प्रक्रिया का अवलोकन करने के लिए झारखण्ड की यात्रा पर हैं.

कृषि मंत्री डॉ० प्रेम कुमार ने झारखण्ड के कृषि मंत्री रणधीर कुमार सिंह तथा कृषि विभाग के वरीय प्रशासनिक पदाधिकारियों के साथ बैठक की. माननीय कृषि मंत्री ने बताया कि झारखण्ड के भौगोलिक संरचना के अनुरूप किसानों को फसलों के लिए सिंचाई की व्यवस्था करने के लिए झारखण्ड के कृषि विभाग द्वारा सिंचाई के आधारभूत संरचना के विकास हेतु अन्य विभागों के साथ समन्वय किया गया है.  साथ ही, भूमि संरक्षण के अंतर्गत जल संरक्षण एवं सिंचाई क्षमता के विकास पर विशेष अभियान चलाया जा रहा है. भूमि संरक्षण योजनाओं के अंतर्गत सरकारी तालाबों का जीर्णोद्धार, मेड़बंदी तथा डोभा पर विशेष बल दिया जा रहा है.  झारखंड में राईसफैलो तथा परती भूमि के लिए विशेष योजना चलायी जा रही है. इसी प्रकार, कृषि में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए झारखण्ड के कृषि विभाग विशेष योजना का क्रियान्वयन कर रही है। झारखंड में एकल खिड़की के माध्यम से कृषि विभाग की योजनाओं का लाभ किसानों तक पहुँचाया जा रहा है.

झारखंड के माननीय कृषि मंत्री ने बिहार के प्रस्तुतीकरण के बाद कहा कि बिहार में बीज, यांत्रिकरण, जैविक को प्रोत्साहित करने के लिए जैविक कोरिडोर, जिरो टिलेज से गेहूँ की बोआई, बीज की गुणवत्ता की जाँच हेतु डी०एन०ए० फिंगर प्रिंटिग तथा कृषि शिक्षा पर बढ़ावा देने के लिए बहुत अच्छा कार्य हो रहा है, जिसे झारखंड भी अपना सकता है.

बिहार के माननीय कृषि मंत्री डॉ० कुमार ने कहा कि बिहार के तर्ज पर ही झारखंड में भी कृषि विकास से संबंधित कुछ योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है. साथ ही, डॉ० कुमार ने झारखंड के कृषि मंत्री को बिहार आने का भी न्योता दिया.

माननीय मंत्री ने यह भी कहा कि पूर्व में हमलोग एक ही राज्य के अंतर्गत थे. लेकिन अब भी हमदोनों मिलकर कृषि विकास से संबंधित योजनाओं को किसानों तक पहुँचायेंग.

माननीय कृषि मंत्री के साथ बिहार से पदाधिकारियों का एक दल जिसमें रवीन्द्र नाथ राय, विशेष सचिव, कृषि विभाग, श्री बैंकटेश नारायण सिंह, निदेशक, बिहार राज्य बीज एवं जैविक प्रमाणन एजेन्सी तथा श्री नरेन्द्र लोहानी, सहायक निदेशक (अभियंत्रण) भी झारखण्ड के यात्रा पर हैं.

 



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in