1. ख़बरें

7th Pay Commission : इन रिटायर्ड कर्मचारियों को सरकार देगी ज्यादा पेंशन, इतने फीसदी मिलेगा लाभ

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
money

भारतीय रेलवे अपने ग्राहकों के साथ-साथ कर्मचारियों को भी प्रभावित करने में लगा रहता है. हाल ही में इसने अपने रिटायर्ड कर्मचारियों के लिए एक बड़ी साझेदारी की घोषणा की है. दरअसल रेलवे बोर्ड ने कहा है कि रेलवे के रिटायर्ड कर्मचारियों की पेंशन को संशोधित करने और पेंशन राशि को बढ़ाने पर विचार किया जायेगा.  हालांकि यह केवल उन्हीं कर्मचारियों के लिए है जिनकी रिटायरमेंट वर्ष 2006 से पहले हुई हैं. इसमें केवल उन पेंशन धारकों को शामिल किया जाएगा, जिन्हें 5 वें वेतन आयोग के अनुसार 6,500-10,500 रुपये के वेतनमान के तहत पेंशन मिल रही थी. उसका रिवीजन 1 जनवरी 2016 से ही माना जाएगा. जबकि केंद्रीय रेलवे और राज्‍य कर्मचारियों के लिए सातवां वेतन आयोग भी इसी तारीख से लागू किया जाएगा.

ऑल इंडिया ऑडिट एंड अकाउंट्स एसोसिएशन के सहायक महासचिव हरिशंकर तिवारी ने कहा कि सरकार ने सभी विभागों में इस फैसले को लागू किया है. लेकिन इससे मुख्य रूप से उन पेंशन धारकों  को फायदा होगा, जिनका रिटायरमेंट के समय मासिक वेतन 17,000 रुपये से कम था.

7th pay commission

रेलवे बोर्ड के आदेश के अनुसार, सभी पेंशन भुगतान आदेश (पीपीओ) (pension payment orders)  ARPAN (सॉफ्टवेयर) में अपलोड करने की अपेक्षा की जाएगी, जो आवश्यक परिवर्तन करने के बाद पेंशन धारकों के लिए किया जाता है। इस प्रकार, सभी पेंशनरों की पेंशन राशि को संशोधित किया जाएगा और फिर इस सॉफ्टवेयर में फीड किया जाएगा.

इसके अलावा, इस संशोधन में नियमित पेंशन के साथ पारिवारिक पेंशन भी शामिल होगी। इसमें 4600 रुपये के ग्रेड पे को इस आदेश के तहत कॉरेस्पोंडिंग ग्रेड पे माना गया है. लेकिन, आपको यह याद रखना होगा कि यह संशोधन उन पेंशनधारकों से संबंधित है, जो 5 वें वेतन आयोग के तहत रिटायर हुए थे. पिछले हफ्ते, रक्षा लेखा के प्रमुख नियंत्रक (पेंशन), ​​प्रयागराज ने 1 जनवरी 2016 से संशोधित पेंशन को लागू करने के लिए तीनों सेनाओं को निर्देश भी दिया था.

English Summary: 7th pay commission will get more pension to these retired employees, then they will get benefit

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News