1. मशीनरी

किसानों की खेती बाड़ी में मद्द करेगा सोयाबीन ज्ञान ऐप, पढ़िए इसकी खासियत

स्वाति राव
स्वाति राव

Soyabean Gyan App

देश के किसानों को खेती करने के दौरान किसी भी तरह की समस्या न हो,  उसके लिए सरकार समय- समय पर नयी पहल करती रहती है. इसी कड़ी में भारतीय सोयाबीन अनुसन्धान संस्थान ने सोयाबीन की खेती करने वाले किसानों की सुविधा के लिए एक सोयाबीन ज्ञान ऐप लॉन्च किया है. इस ऐप के जरिए किसानों को एक ही जगह पर सोयाबीन की खेती से संबन्धित सम्पूर्ण जानकारी मिल जाएगी. इससे उनका काम आसान होगा और उत्पादन भी अच्छा होगा.

सोयाबीन ज्ञान ऐप (Soybean Gyaan App)

यह ऐप हिंदी भाषा में बनाया गया है. किसान इसे गूगल प्ले स्टोर में जा कर इसे अपने स्मार्ट मोबाइल फोन से डाउनलोड कर सकते हैं. इससे किसानों को इस ऐप के जरिये सोयाबीन की खेती से जुडी सभी जानकारी प्राप्त होंगी.

किसानों को इन बातों की मिलेगी सुविधा (Farmers Will Get The Facility Of These Things)

सोयाबीन ऐप के जरिए किसान को फसल के उत्पादन की समस्त जानकारी प्राप्त होगी. जैसे- उत्पादन तकनीकी एवं फसल प्रबंधन कीट प्रबंधन,  रोग प्रबंधन,  खरपतवार प्रबंधन,  स्वास्थ्य लाभ एवं घरेलू उपयोग, कृषि मशीनरी आदि. इस ऐप के जरिए किसानों को सीधे उनके मोबाइल नंबर पर सलाह दी जाएगी. जिसमें उनकी सभी समस्याओं का समाधान का पूरा विवरण होगा.

सोयाबीन उत्पादन की भारत में स्थिति (Status Of Soya Bean Production In India)

सोयाबीन की फसल का उत्पादन भारत में 12 मिलियन टन होता है. भारत में सोयाबीन की फसल का उत्पादन सबसे ज्यादा मध्य प्रदेश, महारष्ट्र, और राजस्थान राज्यों में होता है. बता दें, मध्य प्रदेश में सोयाबीन का उत्पादन 45 प्रतिशत होता है एवं महाराष्ट्र में 40 प्रतिशत होता है. देश में सोयाबीन का सबसे बड़ा   उत्पादक मध्य प्रदेश है. लेकिन प्रति हेक्टेयर उत्पादकता में महाराष्ट्र सबसे आगे है. इन दोनों राज्यों के अलावा राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात और तेलंगाना ने भी इसे क्षेत्र में अच्छा काम किया है. इसका एमएसपी 3,880 रुपये प्रति क्विंटल है, जबकि ओपन मार्केट में इस साल इसका रेट 7000 से 7500 रुपये तक रहा है.

English Summary: soybean knowledge app will help farmers in farming, read its specialty

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News