Lifestyle

सर्दियों में ले धूप, नहीं आयेगी दवाई लेने की नौबत

Sunlight

बदलते हुए वक्त के साथ लोगों की दिनचर्या बहुत बदल गई है. शहरों की चकाचौंध से ग्रामीण  भारत के क्षेत्र भी नहीं बच पाएं हैं. लोग सर्दियों की धूप से दूर हो गए हैं. सर्दियों की नर्म धूप में बैठकर अपनो से विचार-विर्मश करना मानों अब पुराने समय की बात हो गई. अब तो सर्दियों  में हर किसी को रूम-हिटर चाहिए. लेकिन क्या आपको पता है कि हमारी यही लाइफस्टाइल हमें बीमार बनाते जा रही है. सर्दियों के आते ही हम बीमारियों के शिकार हो जाते हैं, क्योंकि हमने धूप से दूरी बना ली है.

सर्दियों की नर्म धूप हमारे शरीर के लिए ऊर्जा का काम करती है. मात्र कुछ देर धूप में बैठना आपको दवाईयों के जंजाल से छुटकारा दे सकता है. आयुर्वेद में इसलिए धूप सेकने को 'आतप सेवन' भी कहा गया है. चलिए आपको बताते हैं कि सर्दियों की धूप से हमें और क्या लाभ मिलता है.

विटामिन डी का प्रमुख सोर्स:

हमारी हड्डियों के लिए विटामिन डी अति आवश्यक है. सर्दियों का धूप विटामिन डी का प्रमुख स्त्रोत है. जिन लोगों को हड्डियों में दर्द की समस्या है उन्हें धूप में बैठना चाहिए. इससे नेचुरल तौर पर कैल्शियम की कमी पूरी होती है.

sunshine

बीमारियों से छुटकाराः

सर्दियों के दिनों में अधिकतर बीमारियों का कारण इन्फेक्शंस और कीटाणु होते हैं. कुछ देर धूप में बैठने से हम इनके प्रभाव से मुक्त हो सकते हैं. धूप से हमारे शरीर की इम्यूनिटी क्षमता भी मजबूत होती है जो बीमारियों से लड़ने में अहम रोल निभाती है.

कैंसर से सुरक्षा:

सूरज की किरणें कैंसर से लड़ने में सहायक होती है. ये कैंसर फैलाने वाले तत्वों को प्रभावी रूप से खत्म करती है.

पॉजिटिव हॉर्मोन्स का विकास:

हमारे शरीर के साथ-साथ ये हमारे मस्तिष्क के लिए भी लाभकारी होती है. धूप के सेवन से डिप्रेशन, सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर और इमोशनल हेल्थ से जुड़ी समस्या खत्म होती है.



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in