सांगली की हल्दी को मिला जीआई टैग

आज हम बात करेंगे सांगली की हल्दी के बारे में जो महाराष्ट्र में स्थित है सांगली महाराष्ट्र का एक मशहूर शहर है. सांगली शहर दक्षिण-पश्चिम भारत के पश्चिम एवं दक्षिण महाराष्ट्र राज्य में स्थित है. सांगली–पुणे-बैंगलोर रेलमार्ग पर कोल्हापुर के पूर्व में कृष्णा नदी के किनारे स्थित है. यह शहर भूतपूर्व सांगली राज्य (1761-1947) की राजधानी थी सांगली संस्थान के वर्तमान राजा विजय सिंह राजे पटवर्धन हैं. यहां बहुत अधिक मात्रा में सांगली की हल्दी की खेती की जाती है. इसे भारतीय पेटेंट कार्यालय से ज्योग्राफिकल इंडेक्स (जीआई) रैंकिंग दी गयी. क्योंकि किसान कब से इस हल्दी को जीआई टैग दिया जाए इसके लिए मांग कर रहै थे. प्रयास के बाद 27 जून में सांगली की हल्दी को जीआई मिला

सांगली की हल्दी :

सांगली की हल्दी 200 वर्ष पूर्व से भी ज्यादा पुरानी है, सांगली के किसानों ने हल्दी उत्पादन के लिए एक विशेष तरीका खोजा था. वे हल्दी को ज़मीन के नीचे अच्छे से दबा देते थे जिससे हल्दी तक ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती थी और वह जल्दी ख़राब नहीं होती थी. इस तकनीक के इस्तेमाल से हल्दी की पैदावार बढ़ने के साथ -साथ इसके स्वाद एवं गुणवत्ता के कारण यह पूरे देश में मशहूर हो गई.

तो देखा आपने किसानो की इतनी कोशिशों के बाद 200 साल पुरानी सांगली की हल्दी को जीआई टैग मिल ही गया.  ऐसी ही ख़ास जानकारियों से आपको अवगत करवाते रहेंगे.  

मनीशा शर्मा, कृषि जागरण

Comments