Lifestyle

स्टीम यानी भाप देगी से सर्दी में राहत

सर्दियां आरंभ हो चुकी हैं और ज़रुरत है सर्दी के मौसम से बचाव की। दिल्ली,मुंबई और दूसरे बड़े शहरों में सर्दी आए या गर्मी, उनके साथ बिमारियां अवश्य आती हैं क्योंकि महानगरों का वातावरण अब पहले जैसा नहीं रहा है । हवा, पानी, खान-पान, रहन-सहन सब कुछ पूरी तरह बदल गया है और बीते कुछ वर्षों में तो बड़े शहरों में बिमारियों का आंकड़ा बढ़ा ही है। प्रदुषण का स्तर इतना अधिक हो गया है कि लोगों को दमा, हैजा और स्वास संबंधी दिक्कतें हर रोज़ हो रही हैं । ऐसे में दवाईयां और डॉक्टर के पास जाने का वक्त हर किसी के पास नहीं और न ही इतना ध्यान के हर दिन दवाई समय पर ली जाए क्योंकि दवाई भी खाई जाए तो आखिर कब तक ?

इसीलिए कुछ घरेलू आयुर्वैदिक इलाज हैं जिसे लोग अपने घरों में ही कर सकते हैं और इसमें अधिक समय भी नहीं लगता। यह उपचार करने से आप अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं। इन्हीं में एक उपजार स्टीम यानी भाप लेना है।

कैसे लें स्टीम(भाप)

सबसे पहले आप बर्तन में पानी उबालने के लिए रख दें, अब उसमें 5 से 6 पत्तियां तुलसी की डाल लें, अब इसे ढक्कर रख दें। 5 मिनट के भीतर जब यह उबलने लगे तो गैस या आग बुझा दें और फिर इस किसी टेबल या सुरक्षित स्थान पर रखकर किसी तौलिये या चादर से स्वयं भी इसकी ओट में आ जाएं। फिर 10 से 15 मिनट तक आप भाप लें। (आप भाप में तुलसी के अलावा दूसरे औषधीय पौधे भी डाल सकते हैं बशर्ते एक बार डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

किस बात से रहें सावधान

इस बात का विशेष रुप से ध्यान रखें कि जब भी पानी स्टीम या भाप लायक तैयार हो जाए तो उसे पूरी सावधानी से किसी सुरक्षित स्थान पर रखें क्योंकि यदि वह पानी किसी पर गिर गया तो अनहोनी हो सकती है। एक बात यह भी ध्यान रखें कि जब भाप लें तो यह देख लें कि आपको कितनी दूरी से भाप लेनी है क्योंकि यदि आप ज़्यादा पास गए तो गर्म भाप से या गर्म बर्तन से आपका चेहरा भी जल सकता है।

 

गिरिश पांडे,
कृषि जागरण



English Summary: Relief from steam i.e. vapor

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in