आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. लाइफ स्टाइल

मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक देगा ग्लोइंग स्किन, इन 5 सामग्री से करें तैयार

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

कई बार धूप में रहना, कमपानी पीना, पेट साफ न होना जैसी समस्याएं स्किन की नेचुरल चमक (Natural Glow) को छीन लेती हैं.अगर आप भी इस समस्या से परेशान है और अपनी स्किन को ग्लोइंन (Glowing Skin) बनाना चाहते हैं, तो एक बार मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करके ज़रूर देखिए. मुल्तानी मिट्टी स्किन के लिए बहुत अच्छी मानी जाती है. यह सबसे सरल और कारगर उपायों में से एक है. आपको बस इसके कुछ चीजों को मुल्तानी मिट्टी में मिलाना है और हफ्ते में कम से कम 3 बार स्किन पर मलना है. इसके बाद आपकी स्किन की चमक लौट आएगी.

फैसपैक बनाने के लिए ज़रूरी सामग्री

- मुल्‍तानी मिट्टी

- एलोवेरा जेल

- नींबू

- गुलाब जल

- हल्‍दी

फेसपैक बनाने की विधि

- सबसे पहले सभी चीजों को कटोरी में मिला लें और इसका पेस्‍ट तैयार कर लें.

- जब सभी चीजें अच्छी तरह मिल जाएं, तो इसको चेहरे पर हाथ या ब्रश की मदद से लगा लें.

- इस फेसपैक को अपने चेहरे, गर्दन और कानों पर लगा सकते हैं.

- इसको चेहरे पर 15 से 20 मिनट तक लगा रहने दें.

- इसके बाद सादा पानी से धो लें.

स्किन पर इस तरीके से लगाएं फैसपैक

- सबसे पहले हाथ से इस पेस्ट को स्किन पर मलें.

- इसके बाद सूखने तक रहने दें.

- लगभग 15 से 20 मिनट बाद इसे ठंडे पानी से धो लें.

- साबुन का इस्तेमाल न करें.

- एक सॉफ्ट तौलिए से स्किन को साफ कर लें.

- इस फेसपैक को हफ्ते में कम से कम 3 बार इस्तेमाल करें.

मुल्तानीमिट्टी लगाने के फायदे (MultaniMitti Benefits)

- रोजाना इस फेस पैक को लगाने से त्वचा में कसाव आ सकता है.

- अगर मुल्तानी मिट्टी में दही मिलाकर लगाते हैं, तो एंटी एजिंग का काम होता है.

- मुल्तानी मिट्टी को गुलाब जल में मिलाकर लगाने से त्वचा में नमी बरकरार रहती है.

- साबुन से होने वाले साइड इफेक्ट से भी बचे रहते हैं.

- इसको लगाने से कील, मुंहासे और पिंपल्‍स खत्म हो जाते हैं.

- इसमें डाले जाने वाला नींबू स्‍किन में ग्लो लाता है, साथ ही बैक्टीरिया को मारने का काम करता है.

- हल्दी स्किन से मुहासों से छुटकारा दिलाने में कमाल है.

English Summary: Multani mitti face pack gives glowing skin

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News