1. लाइफ स्टाइल

प्रचंड गर्मी को मात देता है खस का शर्बत, जानिए क्यों है सेहतकारी

sharbat

बढ़ती गर्मी से हर कोई परेशान है. घर में पंखा-कूलर, ऐसी आदि 24 घंटे की ड्यूटी पर लग चुके हैं. कई क्षेत्रों में तापमान 48 डिग्री तक से ऊपर पहुंच गया है. ऐसे में शरीर को हाइड्रेट रखना अपने आप में एक चूनौती जैसा हो गया है. ध्यान रहे कि गर्मियों में न सिर्फ घर में रहना, बल्कि पर्याप्त मात्रा में पानी पीना भी जरूरी है. आज हम आपको शरीर के साथ-साथ दिमाग को ठंडक देने वाले पेय पदार्थ खस के शर्बत के बारे में बताने जा रहे हैं. गर्मियों के मौसम में खस नाम की सुगंधित घास आपके लिए लाभकारी है. विशेषकर इससे बनने वाला पेय पदार्थ तो मानिए किसी वरदान की तरह ही है.

बीमारियों से रक्षा

अगर आपका शरीर कमजोर है और आप जल्दी बीमारियों से ग्रसित हो जाते हैं, तो खस का शर्बत आपते लिए फायदेमंद है. इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व एवं एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो गर्मियों में होने वाली बीमारियों से हमें बचाते हैं.

इंस्टेंट एनर्जी से भरपूर

अगर कोई श्रम का काम करने जा रहे हैं, तो एक घंटे पहले खस का शर्बत पीना आपके लिए फायदेमंद है. इससे आपके शरीर को इंस्टेंट एनर्जी मिलती है और शरीर में पानी की कमी पूरी होती है. इसी तरह गर्मियों में होने वाले हीट स्ट्रोक से भी खस शरीर की रक्षा करता है.

ये खबर भी पढ़े: Benefits of Cow dung ash: गाय के गोबर की राख से बनने वाले ये उत्पाद, कई बीमारियों से दिलाते हैं निजात !

sharbat

ब्लड सर्कुलेशन रखता है ठीक

ब्लड सर्कुलेशन की शिकायत में खस का शर्बत आपके लिए लाभदायक है. इसके अंदर आयरन, मैंगनीज और विटामिन बी जैसे तत्व पाए जाते हैं. आयरन शरीर में रक्त की कमी को पूरा करता है.

आंखों के लिए फायदेमंद

गर्मियों के दिनों में आंखों से जुड़ी शकियातें बढ़ जाती है. अक्सर लोगों को जलन और लाल आंख की समस्या होती है, ऐसे में खस का शर्बत पीना आंखों को ठंडक प्रदान करता है.

(आपको हमारी खबर कैसी लगी? इस बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दें. इसी तरह अगर आप पशुपालन, किसानी, सरकारी योजनाओं आदि के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो वो भी बताएं. आपके हर संभव सवाल का जवाब कृषि जागरण देने की कोशिश करेगा)

English Summary: khas sharbat is beneficiary for the health in summer know more abour khas grass and health advantages

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News