अगर आप भी पीते है सिगरेट तो जान लीजिये ये बाते

सिगरेट जो कि स्वास्थ्य के लिए बहुत ही बुरी मानी जाती है लेकिन आज के समय में सिगरेट तनाव को कम करने का एक ज़रिया है। युवा पीढ़ी की माने तो सिगरेट से टेंशन कम हो जाती है। और इसी सोच के कारण अधिकतर युवा पीढ़ी सिगरेट की गिरफ्त में आ चुकी है. गैर सरकारी संस्था फाउन्डेशन फॉर स्मोक फ्री वर्ल्ड द्वारा जारी आंकड़ों में खुलासा हुआ है कि देश में स्मोकिंग करने वाले प्रत्येक 10 में से सात लोग स्मोकिंग को सेहत के लिए खतरा मानते हैं और 53 प्रतिशत लोग स्मोकिंग छोड़ने की कोशिशों में नाकाम साबित हुए हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि स्मोकिंग करने वालों को ऐसे तरीके उपलब्ध कराने होंगे, ताकि वे लम्बा और सेहतमंद जीवन जी सकें।

चलिए अब बात करते है सिगेरट से होने वाले नुकसान की। क्योंकि सिगरेट से कैंसर होता है यह तो हम सभी जानते है लेकिन इसके और नुकसान के बारे में हम आपको बताएँगे.

साइनस में रुकावट

आपके द्वारा ली गई सिगरेट की एक कश नाक, आंख और माथे में मौजूद खोखले साइनस में बाधा आने लगती है। जिसके कारण आपकी नाक हल्की सी बंद हो जाती है।

दिमाग में होते है परिवर्तन

सिगरेट में निकोटिन की मात्रा अधिक होती है यह तो आप जानते ही होंगे। जब आप इसका सेवन करते है तो निकोटिन आपके खून में मिल जाती है। जिसका असर दिमाग में बहुत ही बुरा पड़ता है।

लंग्स में असर

यह तो हम अच्छी तरह से जानते है कि स्मोकिंग करने से सबसे ज्यादा असर हमारे फेफड़ों पर ही पड़ता है। हमारा फेफड़ा दिनभर में करीब 20 लाख लीटर हवा फिल्टर करते हैं, लेकिन अगर आपने सिगरेट का सेवन किया तो इससे आपकी फिल्टर में समस्या हो सकती है

दिल की गति तेज

आमतौर पर हमारा दिल प्रति मिनट 72 बार धड़कता है, लेकिन जब आप सिगरेट पीते है तो धड़कने तेज हो जाती है। जो कि प्रति मिनट 75 बार धड़कने लगता है। जो कि इंसान के थकने का कारण बनता है।

पेट पर एसिड बनना

स्मोकिंग सिर्फ आपके लंग्स, दिल या कान में ही प्रभाव नहीं डालता है बल्कि इसके कारण आपके पेट में एसिड बन जाती है। जिससे आपकी पाचन क्रिया काफी हद तक कम हो जाती है।

 

वर्षा
कृषि जागरण

Comments