1. लाइफ स्टाइल

माहवारी के दौरान अपनाएं ये घरेलू उपाय, सभी परेशानियों से मिलेगी राहत

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
pain

माहवारी या मासिक धर्म का रक्तस्राव सामान्य होता है लेकिन कष्टप्रद और असहज भी. इसमें बार-बार मिजाज़ बदलना (Mood  Swings ) और हार्मोनल असंतुलन (Hormonal Imbalance) होना, और भी कठिन स्थिति में ला देते हैं. चिकित्सा शब्दावली में, इस हालत में ऐंठन (Cramps)  को डिसमेनोरिया के रूप में जाना जाता है, जिसे अक्सर पेट और पीठ के निचले हिस्से के दर्द के रूप में देखा जाता है. कई महिलाएं इस दर्द से राहत पाने के लिए दर्द निवारक और अन्य दवाएं लेती हैं, लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि ये सभी उपाय लंबे समय के बाद आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं. क्या आप जानते हैं कि माहवारी यानी पीरियड क्रैम्प्स के लिए सबसे प्रभावी प्राकृतिक उपचार आपकी रसोई में ही छिपा हुआ है? अपने रसोई घर में इन चार सबसे आम जड़ी बूटियों की तलाश करें ताकि आपको इस दर्दनाक ऐंठन से तुरंत छुटकारा मिल सके.

ginger

अदरक

अदरक हमारे लिए काफी उपयोगी औषधि है. यह गले में खराश, अपच, उच्च रक्त शर्करा या पुराने ऑस्टियो आर्थराइटिस जैसे रोगों के इलाज में मदद करता है. इसमें कई औषधीय गुण होते हैं जो माहवारी की ऐंठन से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं. अदरक एक वॉर्मिंग जड़ी बूटी है जो दर्द पैदा करने वाले प्रोस्टाग्लैंडिंस के स्तर को कम करके मासिक धर्म की ऐंठन को कम करने में मदद कर सकती है. माहवारी के दौरान आप बार-बार गर्म अदरक की चाय ले सकते हैं. आप पानी में अदरक और थोड़ी सी चीनी मिलाकर उबालकर भी इसका सेवन कर सकते हैं. अपने भोजन के बाद इसे दिन में तीन बार पिएं.

cinnamon

दालचीनी

दालचीनी मासिक धर्म में ऐंठन होने पर एक बहुत अच्छा अवरोधक का काम करती है. एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि जिन महिलाओं ने पहले 3 दिन माहवारी के लिए 3 ग्राम दालचीनी का सेवन किया, उन्हें काफी कम दर्द महसूस हुआ. एक अन्य अध्ययन से पता चला है कि जिन महिलाओं ने अपने मासिक धर्म चक्र के पहले 3 दिनों में दिन में तीन बार किसी भी रूप में दालचीनी का सेवन किया, उनमें कम रक्तस्राव, कम दर्द और पीरियड क्रैम्प आदि से काफी हद तक राहत देखने को मिली है. ऐसे में आप अपनी चाय, कॉफी या मीठे व्यंजनों में एक चुटकी दालचीनी पाउडर छिड़कने से ऐंठन से छुटकारा पा सकते हैं.

turmeric

हल्दी

लगभग हर भारतीय व्यंजन में हल्दी मसाला होता है. अक्सर भारतीय व्यंजनों के स्वाद और रंग को बढ़ाने के लिए यह जाना जाता है, हल्दी के कई औषधीय लाभ भी हैं. हल्दी का सेवन आपको अनियमित माहवारी के साथ-साथ अपर्याप्त दर्द से लड़ने में मदद कर सकता है. ऐसे में आप रोज रात एक गिलास दूध में एक बड़ा चम्मच हल्दी डालकर ले सकते हैं. आपको दर्द से निजात मिलेगी.

English Summary: If there is more problem during periods, try these home remedies

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News