Lifestyle

धनिया का बीज दिलाएगा कई समस्याओं से छुटकारा, दूर होगी सेहत की छोटी-बड़ी प्रॉब्लम

धनिया या उसके बीजों का इस्तेमाल भारतीय रसोई में आमतौर पर किया जाता है. यह सिर्फ खाने में स्वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि इसमें एंटी-बैक्टीरियल, विटामिन और मिनरल जैसे तत्व भी पाए जाते हैं जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं.

धनिया के फायदे:-

गैस-एसिडिटी
खान-पान की गलत आदतों के चलते बहुत से लोग गैस एसिडिटी से परेशान रहते हैं. ऐसे लोगों के लिए धनिया के बीज काफी फायदेमंद साबित होते हैं. बस रातभर 1 गिलास पानी में आधा चम्मच बीज भिगोकर रख दें और सुबह इस पानी का सेवन कर लें. इससे आपको एसिडिटी की समस्या नहीं होगी.

वजन घटाने में फायदेमंद

1 गिलास पानी में बीजों को 2-3 घंटे भिगोकर रख दें फिर इस पानी को उबालें जबतक पानी आधा न रह जाए. इस पानी का सेवन दिन में 2 बार करें. इससे आपको भूख कम लगेगी और वजन कम होगा साथ ही इम्यून सिस्टम भी स्ट्रॉन्ग होगा.

खून की कमी करें दूर

इसके बीज में पर्याप्त मात्रा में आयरन होता है जो खून में हेमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है. यही कारण है कि इसके बीज का सेवन करने से खून की कमी दूर होती है.

थायरॉइड मरीजों के लिए लाभदायक

लगभग 2 चम्मच साबुत धनिया या धनिया के बीज को रात को लगभग एक गिलास पानी में भिगो दें. सुबह इस धनिया को पानी समेत पांच मिनिट के लिए उबालें फिर छानकर यह पानी गुनगुना पी लें. अगर आप थायरॉइड कंट्रोल करने के लिए दवा ले रहे हैं तो सबसे पहले खाली पेट अपनी दवा लें. फिर 30 मिनिट बाद यह पानी पिएं और इसके 30 से 45 मिनट बाद आप नाश्ता करें. अगर आप चाहें तो इसे दिन में दो बार खाली पेट भी ले सकते हैं. यह थायरॉइड को कंट्रोल करने में बहुत लाभकारी है. लगभग 30 से 45 दिनों तक नियमित सेवन करने के बाद अपना थायरॉइड लेवल फिर से चेक कराएं, आपको वाकई असर दिखेगा.

आंखों के लिए गुणकारी

थोड़ा-सा धनिया कूट कर पानी में उबाल कर ठंडा कर लें फिर इस मिश्रण को छानकर इसका पानी अलग कर लें और शीशी में भर लें. इसी अर्क की दो बूंद आंखों में डालें. आंखों में जलन, दर्द तथा पानी गिरना जैसी समस्याएं दूर होती हैं. लेकिन याद रखें कि आंखों से जुड़ी कोई सर्जरी हुई है तो इसका इस्तेमाल न करें.

पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद

पाचन तंत्र में इसके बीज बेहद लाभकारी हैं. 1-2 चमच्च धनिया को कोकोनट मिल्क, खीरा और तरबूज़ जैसी ठण्डी तासीर वाली चीज़ों के साथ मिलाकर एक स्मूदी तैयार कर लें. इसका सेवन करने से आपका पाचन तंत्र स्ट्रॉन्ग होगा. खाया-पीया हज़म होगा. अगर पेट में सूजन है तो वो भी ठीक हो जाएगी.

गठिए से मिलने वाले फायदे

1/2 चम्मच बीज के पाउडर में शीया बटर या कोकोनट बटर में मिलाकर एक बाम तैयार कर लें. अब इस बाम में 4-5 बूंदें कोकोनट तेल की डालकर इससे हड्डियों के जोड़ो पर मसाज करें.

स्किन एलर्जी में लाभदायक

इसका सेवन करने से आंखों की और हाथों पैरों की जलन से छुटकारा मिलता है. धनिया के पत्तों को शहद के साथ मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें और इसे शरीर पर होने वाली खुजली की जगह पर लगाएं. 1-2 दिन तक फरक जरूर दिखेगा, अगर न देखे तो डॉ की सलाह लें.

मुंह के छालों से आराम

पेट की समस्‍या के कारण मुंह में छाले होना भी एक आम समस्‍या है. कई बार यह समस्‍या इतनी भयंकर हो जाती है कि हम इसके कारण खाना भी नहीं खा पाते हैं. ऐसे में इस समस्‍या से निपटने के लिए सूखा धनिया लें. इसके लिए 1 चम्मच पिसा धनिया, 250 मिलिलीटर पानी में मसलकर छान लीजिए. इस पानी से दिन में 2-3 बार कुल्ला करें, छाले की समस्‍या समाप्‍त हो जायेगी.

डायबिटीज़ मरीजों के लिए बेस्ट

धनिया डायबिटीज़ प्रबंधन के लिए सबसे भरोसेमंद पारंपरिक उपचारों में से एक रहा है. द ब्रितानी जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक, यह पाया गया कि धनिया के बीज में कुछ यौगिक होते हैं जो ब्‍लड में आने पर एंटी-हाइपरग्लाइकेमिक, इंसुलिन डिस्चार्जिंग और इंसुलिन का उत्‍पादन करते हैं. जिससे आपके ब्‍लड ग्लूकोज के लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है.

प्रेग्नेंसी में जी मचलाना या मतली

गर्भ धारण करने के दो-तीन महीने तक गर्भवती महिला को उल्टियां आती है. ऐसे में धनिया का काढ़ा बनाकर उसमें एक चम्मच पिसी मिश्री मिलाकर पीने से जी घबराना बंद होता है.



English Summary: health benefits of coriander seeds

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in