1. लाइफ स्टाइल

इन नुस्खों को अपनाकर झड़ते बालों की समस्या से छुटकारा पाए

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

झड़ते बालों की समस्या केवल लड़कियों को ही नहीं बल्कि लड़कों को भी परेशान किए हुए है. मानसून के मौसम में बालों का झड़ना आम बात है लेकिन यदि बाल आपका हमेंशा झड़ रहे है तो ये परेशानी का वजह बन सकता है. कही न कही झड़ते बालों की वजह हम खुद भी है क्योंकि हम अपने लाइफस्टाइल में कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिसका असर सीधे हमारे बालों पर पड़ता है. नतीजतन बाल झड़ने, सफ़ेद और कमजोर हो जाते है. आज हम आपको उन्हीं गलतियों के बारे में बताएंगे जिन्हें कभी भी नहीं करना चाहिए.

अधिक कंडीशनर का इस्तेमाल (Use more conditioners)

कुछ लोग बालों में शैंपू करते है उसके बाद कंडीशनर का इस्तेमाल जरूर करते है जो कि सही नहीं होता है. माना कि कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए लेकिन हमेंशा नहीं. आपको बता दे कि बालों में हमेंशा कंडीशनर इस्तेमाल करने से कंडीशनर में मौजूद कैंमिकल्स की वजह से बाल झड़ने लगते हैं.

बालों में रोज शैंपू करना (Hair shampoo everyday)

यदि आप अपने बालों को रोज शैंपू करती है तो सावधान हो जाइए. क्योंकि रोजाना शैंपू करने से न सिर्फ बाल कमजोर होते है बल्कि उनमें रुखापन भी आ जाता है, जिसका परिणाम यह होता है बाल टूट कर गिरने लगते हैं.

ज़्यादा ड्रायर का इस्तेमाल (More dryer use)

हमेंशा बालों को ड्रायर कि मदद से सुखाने से उन्हें ज़्यादा हिट मिलती है जिसकी वजह से बालों की जड़े कमजोर होने लगती है और बाल टूटकर गिरने लगते हैं.

गीले बालों को बाधना (Tying wet hair)

हम लोग अकसर जल्दबाज़ी में गीले बालों को बांधकर जहां जाना होता है वहा चले जाते है, जिस वजह से बालों के जड़ो में नमी नहीं रहती और बाल रफ होने लगते हैं.

सोने से पहले तेल लगाना (Apply oil before sleep)

बहुत से लोग रात को बालों में तेल लगाकर सो जाते हैं जोकि बिल्कुल गलत है. रात में ऑयल लगाकर सोने से बालों में डस्ट लग जाता है जिसके वजह से बाल झड़ने लगते है. इसलिए हमेंशा यह ध्यान रखे कि बालों को धोने से 2-3 घंटे पहले तेल लगाए.

English Summary: hair falling : Follow these tips to get rid of the problem of falling hair

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News