फेफड़े के कैंसर से बचा सकता है अंगूर, कर्ई गुणों से है भरपूर

फलों का सेवन स्वास्थय के लिए काफी लाफदायक माना जाता है. फल कई प्रकार के होते हैं कुछ मिठे और कुछ खट्टे. आज हम अपको एक ऐसे ही फल गंगूर के गुणों के बारे में बताएंगे. आपको बताते हैं की हमारे जीवन में अंगूर फल की उपयोगिता काफि अधिक है और किस प्रकार अंगूर हमे स्वाद में ही मिठास नहीं देता बल्कि हमारे जिवन को भी अपनी मिठास से भर देता है. अंगूर जितना मिठा अपने स्वाद की वजह से है उतना ही मिठा अपने गुणों में भी है. अंगूर और उसके बीज में पाए जाने वाले यैगिक 'रेस्वेराट्राल ' फेफड़े के कैंसर में काफी कारगर माना जाता है.

फेफड़े का कैंसर सबसे खतरनाक और घातक माना जाता है. 80 फिसदी लोग धूम्रपान के कारण इसके शिकार हो जाते है. वैज्ञानिकों का कहना है की फेफड़ो के कैंसर से बचने के लिए धूम्रपान के नियंत्रण के साथ ही परहेज भी जरूरी है. युनिवर्सिटी ऑफ जेनेवा के वैज्ञानिकों का कहना है की सिगरेट में पाए जाने वाला कार्सिनोजेन से होने वाले कैंसर से हमें रेस्वेराट्राल नामक यौगिक बचा सकता है.

चूहों पर किये गए एक शोध में पाया गया है की रेस्वेराट्राल नामक यौगिक से टयूमर के उपचार में 45 फिसद की कमी आयी है. बैज्ञानिकों का कहना है की फेफड़े के कैंसर से पीड़ित आदमी पर रेस्वेराट्राल  यौगिक कारगर साबित हो सकता है.

 

प्रभाकर, कृषि जागरण

Comments