Lifestyle

Karwa Chauth 2020: करवा चौथ के दिन सरगी में जरूर शामिल करें ये चीजें, नहीं लगेगी प्यास

karva

करवा चौथ का त्योहार सुहागन महिलाओं के लिए सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है. महिलाएं करवा चौथ का व्रत कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष चतुर्थी तिथि के दिन रखती हैं. इस साल यह व्रत 4 नवंबर को रखा जाएगा. इस दिन महिलाएं सुबह-सुबह उठकर सरगी का सेवन करती हैं, तो आइए आपको बताते हैं कि आखिरकार सरगी क्या होती है और सरगी की थाली में किन चीजों को जरूर शामिल करना चाहिए. 

क्या होती है सरगी

सभी महिलाएं करवा चौथ के दिन सरगी का सेवन करती है. इसे काफी शुभ माना जाता है. सरगी में खाने की वो खास चीजें शामिल होती हैं, जो करवा चौथ पर सूर्योदय से पहले सास अपनी बहू को खाने के लिए देती है. महिलाएं अपनी सास द्वारा दी गई सरगी का सेवन करने के बाद ही करवा चौथ का व्रत शुरू करती हैं. बता दें कि सरगी का सेवन सूर्योदय से पहले 4 से 5 बजे के करीब किया जाता है.

sargi

रगी में जरूर शामिल करें ये चीजें


खीर या दूध की फैनी- करवा चौथ के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं, इसलिए उन्हें सरगी में खीर या फैनी को ज़रूर शामिल करना चाहिए. इसके सेवन से शरीर में शुगर की मात्रा और ऊर्जा का स्तर बना रहता है. इसकी वजह महिलाओं का मूड भी अच्छा रहता है.

ड्राय फ्रूट्स- सभी महिलाओं को सरगी में कुछ ड्राय फ्रूट्स भी शामिल करना चाहिए. इससे दिन भर के लिए पर्याप्त ऊर्जा मिल पाती है, साथ ही थकान महसूस नहीं होती है.  

मिठाई- सरगी में मिठाई को भी ज़रूर शामिल करना चाहिए. मिठाई में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है, क्योंकि चीनी में अमिनो एसिड ट्रीप्टोफन होता है, जो कि न्‍यूरोट्रांसमीटर के लेवल को बढ़ाता है. इससे चक्कर नहीं आते हैं.

फल - फलों की यह खासियत है कि वह बहुत जल्दी पच जाते हैं, लेकिन कम समय में जरूरी पोषण और ऊर्जा के लिए बहुत अच्छे होते हैं. इसके अलावा आपको सामान्य पानी की जगह नारियल का पानी पीनी चाहिए. इससे शरीर को जरूरी मिनरल्स मिलते हैं, जिससे पेट भी स्वस्थ बना रहता है. 

ककड़ी - इस महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं, तो प्यास से बचने के लिए ककड़ी का सेवन करना चाहिए. 



English Summary: Eat these foods in Sargi on the day of Karva Chauth

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in