Medicinal Crops

असरदार है यह केले का पत्ता

केला दुनिया में पसंद किया जाने वाला उष्णकटिबंधीय फल है. सभी केले से मिलने वाली ऊर्जा लाभों से परिचित है. कोई भी एथलीट आहार में केले को जरूर शामिल करता है. लोग इस बात से कम ही परिचित होंगे कि केले के पत्ते भी सेहत के लिए ज्यादा लाभकारी होते है. केले के पत्तों को औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. इससे हम गले की खरांश, खांसी, समान्य सर्दी और बुखार जैसी बीमारियों में इलाज कर सकते है.

केले के पत्तों से दूर करें दर्द

अगर गले में किसी भी तरह का दर्द है तो आपके लिए केले का पत्ता बेहतर विकल्प है. दरअसल गले में खराश और श्वसन से जुड़ी बीमारियां होती है. ये बीमारियां वायरस से जुड़ी होती है. आप केले के सूखे पत्तों को पानी में उबाल लें और इसका सेवन करें जिससे लाभ होगा.

इम्यून सिस्टम को करें दूर

शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए केले के पत्ते का उपयोग लाभकारी होता है. इनके पत्तों में एलेन्टाइन जैसे तत्व प्रतिरोधक तत्व प्रतिरोधक पाए जाते है.

पेचिश में लाभकारी

पेचिश की बीमारी आंत की सूजन के कारण होती है. केले के पत्ते पेचिश का इलाज करने के लिए उपयोग किए जाने वाले परंपरिक तत्वों में से एक है. दरअसल पत्तों में एक ऐसा पदार्थ होता है जिसके सहारे आंत की सूजन को कम किया जा सकता है. इसका काढ़ा पेट दर्द को भी कम करता है.

वजन कम करने में सहायक

केले के पत्ते का उपयोग दो तरीकों से कर सकते है. सबसे पहले केले के पत्तों को ताजा मैश करकें उसके सेल्युलाइट को कम करने और त्वचा को स्वस्थ रखने में बॉडी मास्क के रूप में इस्तेमाल कर सकते है. ये आपके वजन को कम सहायक होता है.

भोजन को लपेटने में सहायक

अगर हम दक्षिण भारत की बात करें तो यहां पर केले के पत्तों का प्रयोग भोजन को लपेटने में किया जाता है.साथ ही थाली की जगह केले के पत्ते पर ही खाना खा सकते है. आमतौर पर इसका प्रयोग नूडल्स, चावल, इडली व अन्य तरह के व्यंजनों को लपेटने में किया जाता है.



Share your comments