1. बागवानी

आम की कुछ प्रमुख किस्में, जानिए आपके लिए क्या है फायदेमंद

हमारे यहां आमतौर पर गर्मियों की शुरुआत आम के फल से होती है. बहुत ही अधिक मीठा, रसीला और पौष्टिक होने के कारण ये सभी को पसंद है. हर किसी के मुंह में इसका नाम सुनते ही पानी आ जाता है. इसकी लोकप्रियता के कारण ही इसे फलों का राजा भी कहा जाता है. वैसे आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि आम उत्पादन के मामले में हमारा देश दुनिया में सबसे आगे है. हमारे देश में इसकी कई किस्में पाई जाती हैं. आज हम आपको कुछ सबसे लोकप्रिय किस्मों के बारे में बताने जा रहे हैं.

अलफान्सो
हमारे देश में आम की सबसे लोकप्रिय किस्मों में से एक अलफान्सो है. इसे आम की सबसे उन्नत एवं महंगी किस्म कहा जाता है. कुछ क्षेत्रों में इसे ‘हाफुस’ के नाम से भी जाना जाता है. देखने में यह सुनहरा होता है. इसकी सबसे अधिक खेती महाराष्ट्र के रत्नागिरी, रायगढ़ व कोंकण के क्षेत्रों में होती है. स्वाद में अलफान्सो बहुत ही मीठा एवं पौष्टिक होता है.

दशहरी आम
इस आम की सबसे अधिक लोकप्रियता उत्तर भारत के क्षेत्रों में है. यह आम बहुत ही स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए भी अच्छा माना जाता है. उत्तर प्रदेश के मलिहाबाद क्षेत्र में इसकी खूब खेती होती है. स्थानीय भाषा में लोग इसे चूसने वाला आम भी कहते हैं.

चौसा
चौसा आम की खेती भी भारत में बड़े स्तर पर होती है. यह आम स्वाद में बहुत मीठा होने के साथ-साथ शरीर के लिए भी अच्छा माना जाता है. इसका रंग सुनहरा पीला होता है और इसकी खेती आमतौर पर गर्मियों के मौसम के अंत में होती है.

लंगड़ा
लंगड़ा आम की खेती भी उत्तर प्रदेश-बिहार के क्षेत्रों में होती है. यह आम देखने में पीले-हरे रंग का होता है और आकार में अंडाकार प्रतीत होता है.

तोतापरी
तोतापरी किस्म भी भारत में खूब पसंद की जाती है. तोते की चोंच जैसी टिप होने के कारण ही इसे तोतापरी कहा जाता है. इसका उपयोग मुख्य रूप से अचार में होता है. कुछ बड़ी कंपनियां कोल्ड ड्रिंक्स में भी इसका उपयोग कर रही हैं.

केसर
गुजरात के जूनागढ़ क्षेत्र में एक खास प्रकार का आम होती है, केसर आम. यह आम अपने स्वादिष्ट होने के साथ-साथ ही सुगंध में केसर की खुशबू देता है. आमरस बनाने में आजकल इसी का उपयोग अधिक हो रहा है.

बंगपाली या सफ़ेदा
इसकी खेती मुख्य रूप से आंध्र प्रदेश में होती है. इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है. तिरछा ओवल शेप होने के कारण इसे पहचानना आसान है. इसका रंग पीला होता है और छिलका काफी पतला होता है. स्वाद में बंगपाली हल्का खट्टा होता है.  

English Summary: varieties of mangoes and name advantage for health know more about it

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News