1. बागवानी

'ताड़गोला' एक ऐसा फल है जिसके औषधीय गुण जान रह जायेंगे हैरान

Ice Apple

ताड़गोला (Ice Apple) एक ऐसा फल है, जिसके बारे में बहुत कम ही लोग जानते होंगे और जानने वाले भी शायद ही इसे खाते होंगे. सफेद जेली (White Jelly) जैसा दिखने वाला यह फल खाने में हल्का मीठा होता है, जिसमें कई पोषक तत्वों के साथ पानी भरपूर मात्रा में मौजूद होता है. इसमें पानी की मात्रा अधिक होने के कारण इसे गर्मियों में खाने की सलाह दी जाती है. यह हमारे शरीर को हाइड्रेट रखता है. यह फल प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करता है.

तड़गोला में पाए जाने वाले पोषक तत्व और खनिज

इसमें कई पौष्टिक तत्व और खनिज होते हैं. इसमें कैलोरी, फैट, सोडियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, शुगर, प्रोटीन, पोटैशियम, कॉपर, विटामिन बी6 और जिंक होता है.

तड़गोला के औषधीय गुण? (Medicinal properties of Targola)

तड़गोला में कई औषधीय गुण होते हैं. इसका सिरका पाचक का काम करता है और शरीर को दुरुस्त और मजबूत बनाता है. इसका पका फल पित्त को बाहर निकालता है और वीर्य की संख्या को बढ़ाता है. यह रक्त संबंधी समस्याओं को भी दूर करता है. इसके अलावा यह शरीर की थकान को कम करता है और पेशाब को साफ करता है.

तड़गोला के क्या फायदे हैं? (What are the benefits of Targola?)

डकार को कम करना

व्यक्ति में भोजन को पचा नहीं पाने के कारण अक्सर डकार आने की समस्या शुरू हो जाती है. डकार की समस्या को दूर करने के लिए यह फल फायदेमंद होता है, क्योंकि इस फल के कच्चे मांस का पानी पीने से डकार आना बंद हो जाता है. इसके अलावा यह जी मिचलाना और उल्टी की समस्या को भी कम करता है.

पेट के रोगों को दूर करता है

यह फल पेट से संबंधित विकारों को दूर करता है. ताड़ को गुड़ के साथ दिन में दो बार खाने से पेट के रोग दूर होते हैं और स्वास्थ्य ठीक रहता है. इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार करें, हालांकि इस बात का ध्यान रखें और सही मात्रा में इसका सेवन करें क्योंकि अधिक सेवन नकारात्मक परिणाम दे सकता है.

सूजन कम करना

अगर आपको किसी तरह की चोट या सूजन है तो ताड़ के पत्तों का रस पीने से फायदा होता है. इससे सूजन और चोट लगने की समस्या कम हो जाती है. सूजन आने पर ताड़ के पत्तों का रस पीएं.

इस ख़बर को भी पढ़ें: झारखंड का ये 'शाकाहारी मटन' है औषधियों गुणों से भरपूर

मानसिक रोगों से बचाव

ताड़ के पेड़ में कुछ ऐसे औषधीय गुण मौजूद होते हैं जो मानसिक समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं. ताड़ के पत्तों का रस दिन में दो बार पीने से अवसाद और बेहोशी की समस्या कम हो जाती है. इसके अलावा यह अन्य बीमारियों से भी बचाता है.

टाइफाइड बुखार को कम करता है

टाइफाइड बुखार को ठीक करने के लिए ताड़ के पत्ते फायदेमंद होते हैं. इसके रस का दिन में दो बार सेवन करने से बुखार का तापमान कम हो जाता है.

तड़गोला के सेवन से नुकसान

  • इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट में दर्द और ऐंठन हो सकती है.

  • स्तनपान कराने वाली और गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.

  • जिन लोगों की पाचन शक्ति कमजोर होती है उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए.

  • जिन लोगों को इस फल का सेवन करने के बाद एलर्जी की समस्या होती है, उन्हें इनसे बचना चाहिए.

English Summary: Tadgola is a fruit whose medicinal properties will be surprised to know

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters