Animal Husbandry

ग्वेर्नसे गाय का पालन कर कमाएं मुनाफ़ा, जानिए इस नस्ल की खासियत

ग्वेर्नसे गाय (Guernsey cattle) को दूध उत्पादन में बहुत ही हल्के स्वभाव का माना जाता है. यह कई महत्वपूर्ण गुणों का प्रदर्शन करती है. इस नस्ल की गाय अन्य नस्ल के पशुओं से भिन्न होती है जैसे, दूध की गुणवत्ता, वजन, रंग आदि. इस गाय की नस्ल से औसतन 6000 लीटर तक दूध उत्पादन मिल सकता है. इसका पालन करके आर्थिक मुनाफ़ा अच्छा कमाया जा सकता है. बता दें कि ग्वेर्नसे चैनल द्वीप समूह के डेयरी उद्योग के लिए प्रमुख नस्ल है.  

छोटी नस्ल है ग्वेर्नसे गाय

यह गाय घरेलू मवेशियों की एक छोटी नस्ल होती है, जिनका पालन मुख्य रूप से डेयरी उद्देश्यों के लिए होता है. इस नस्ल की गाय विशेष रूप से सुनहरे रंग की होती हैं, साथ ही दूध की गुणवत्ता के लिए सर्वश्रेष्ठ मानी जाती हैं. इसके दूध में बीटा और कैरोटीन की एक असाधारण मात्रा होती है, जो कि निश्चित रूप से सुनहरा रंग देती है. बता दें कि बीटा-कैरोटीन विटामिन-ए के उत्पादन में मदद करता है. ऐसे में ग्वेर्नसे गाय को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. इन्हें एक  कुशल दुग्ध उत्पादक माना जाता है, जिनमें निम्न स्तर के डिस्टोसिया शामिल हैं.

ये खबर भी पढ़ें: दुधारू पशु को खरीदते समय इन 5 बातों पर दें खास ध्यान

सेहत में होती हैं थोड़ी नाजुक

इस नस्ल के पशुओं में जीन पूल की संकीर्णता होती है, जिस कारण बिमारियों के लिए यह पशु थोड़े नाजुक होते हैं. इनका रंग अधिकतर लाल और सफेद कोट में पाया जाता है. अगर ग्वेर्नसे मादा के वजन की बात करें, तो इनका वजह करीब 450 किलोग्राम का होता है, तो वहीं बैल का वजह करीब 600 से 700 किलोग्राम का पाया जाता है. यह अन्य पशुओं की कई नस्लों की तुलना में अपेक्षाकृत छोटे हैं. यह बहुत ही विनम्र जानवर की श्रेणी में आते हैं, लेकिन कभी-कभी बैल आक्रामक हो जाते हैं.

अन्य जरूरी जानकारी

  • ग्वेर्नसे बैल कभी-कभी हिंसक हो जाते हैं.

  • यह लाल कोट में सफेद पैच के साथ उपलब्ध होते हैं.

  • दूध सुनहरे रंग का होता है.

  • ग्वेर्नसे गाय के दूध में बीटा-कैरोटीन की मात्रा होती है.

  • दूध में प्रोटीन की तुलना पाई जाती है.

ये खबर भी पढ़ें: डेयरी बिजनेस में गाय की इन देसी, विदेशी और संकर नस्लों से मिलेगा मुनाफ़ा, जानिए दूध उत्पादन की क्षमता



English Summary: Earn financial profit by rearing Guernsey cow

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in